sport

अभिषेक-ज्योति की जोड़ी ने गोल्ड पर लगाया निशाना

एशियन तीरंदाजी चैंपियनशिप में भारत के अभिषेक वर्माऔर ज्योति सुरेखा वण्णम  की जोड़ी ने गोल्ड मेडल अपने नाम किया है।कल यानी 27 नवंबर  बुधवार को समाप्त हुई 21वीं एशियन तीरंदाजी चैंपियनशिप में अभिषेक और ज्योति की जोड़ी ने गोल्ड पर निशाना साधा है। इस टूर्नामेंट में भारतीय खिलाड़ियों का ये अकेला स्वर्ण पदक है। हालांकि, कुल मिलाकर भारतीय तीरंदाजों ने सात पदक अपने नाम किए हैं।

आंध्र प्रदेश के रहने वाले अभिषेक वर्मा और दिल्ली की रहने वालीं ज्योति सुरेखा ने चीनी ताइपी  को 158-151 से हराकर खिताबी जीत हासिल की है। भारतीय खिलाड़ियों ने इस प्रतियोगिता में एक गोल्ड, दो सिल्वर और 4 कांस्य पदक अपने नाम किए हैं। इससे पहले अभिषेक वर्मा सिर्फ एक अंक से कंपाउड टीम में कोरिया की टीम से गोल्ड मेडल लेने से चूक गए थे। 232-233 से उन्हें निराशा हाथ लगी थी।

संयुक्त टीम में ज्योति के साथ गोल्ड मेडल जीतने वाले अभिषेक वर्मा ने कहा, “परिस्थितियां काफी खराब थी, क्योंकि हवा चल रही थी और ये हमारे लिए स्वर्ण पदक जीतने का आखिरी मौका था, जो सफल हुआ।” वहीं, ज्योति सुरेखा  ने कहा, “मैं स्कोर से काफी खुश हूं। यहां तक कि पिछले मुकाबले में भी हम अच्छा प्रदर्शन करके आए थे।”

शीर्ष वरीय त्रिमूर्ति अभिषेक वर्मा, रजत चौहान और मोहन भारद्वाज ने पहले राउंड में 58-58 अंक हासिल किए, लेकिन कोरियन टीम  ने धीरे-धीरे दूसरे एंड से एक-एक अंक लेकर गति को जब्त कर लिया। भारतीयों के लिए पैनल्टी भारी पड़ी, क्योंकि कोरियाई लोगों ने तीन अंकों की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल की। हालांकि, आखिरी बार भारतीयों ने 59 अंक हासिल किए। वहीं,  कोरियाई खिलाड़ियों ने 57 अंक हासिल किए, लेकिन ये कम पड़े, क्योंकि टीम पहले ही तीन अंकों से पिछड़ चुकी थी।

You may also like