[gtranslate]
sport

अश्विनी पोनप्पा को कर्नाटक सरकार ने दिया 33 लाख ,पुरस्कार

भारत की अनुभवी बैडमिंटन खिलाड़ी अश्विनी पोनप्पा माचीमंदा को कर्नाटक सरकार ने इस वर्ष उनके गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में मिश्रित युगल वर्ग में स्वर्ण पदक जीतने के लिए 33 लाख रूपए के नकद ईनाम से पुरस्कृत किया है ।
 उप मुख्यमंत्री परमेश्वर ने अश्विनी को 33 लाख रूपए का चेक प्रदान किया।

पोनप्पा ने इसी वर्ष अप्रैल में आॅस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में मिश्रित युगल वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था ।और महिला युगल में एन सिक्की रेड्डी के साथ  कांस्य पदक जीता था। कर्नाटक सरकार की ओर से उन्हें स्वर्ण पदक के लिए 25 लाख रूपए और कांस्य के लिए आठ लाख रूपए का ईनाम दिया गया और उपमुख्यमंत्री ने उन्हें कुल 33 लाख रूपए का चेक भेंट किया।

परमेश्वर ने पोनप्पा की उपलब्धियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनमें ओलंपिक खेलों में भी स्वर्ण पदक जीतने की काबिलियत है और राज्य सरकार उन्हें अपनी ओर से हर संभव मदद मुहैया कराने के लिए तैयार है।

हॉल ही में उभरते हुए भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने जकार्ता में एशियाई जूनियर चैम्पियनशिप के फाइनल में मौजूदा जूनियर विश्व चैम्पियन थाईलैंड के कुनलावुत वितिदसर्न को सीधे गेम में हराकर यह खिताब अपने नाम किया था । यह ख़िताब को जीतने वाले लक्ष्य सेन तीसरे भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। यह ख़िताब53 वर्ष बाद भारत नाम करके लक्ष्य सेन इतिहास रचा था।

 लक्ष्य सेन मूल रूप से उत्तराखंड के रहने वाले हैं ।इस जीत के लिए भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने लक्ष्य सेन को एशियाई जूनियर चैम्पियनशिप जीतने पर 10लाख रुपए की नकद इनामी राशि देने की घोषणा भी की है।

बीएआई के अध्यक्ष हेमंत बिस्व शर्मा  ने लक्ष्य की इस उपलब्धि की तारीफ करते हुए कहा- लक्ष्य ने देश को गौरवान्वित किया है। हम युवाओं पर निवेश कर रहे हैं क्या उत्तराखंड राज्य की सरकार भी इसी नक्शे कदम पर चलकर और राज्यों की तरह इन खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देगी?

उत्तराखंड में ऐसे पतिभाओं की कमी नही है जो राज्य और प्रदेश का नाम रोशन करने को तैयार हैं ।बस जरूरत है तो सिर्फ उन प्रतिभाओं को  मंच देने की जिससे देश के साथ-साथ प्रदेश को भी इन प्रतिभाओं पर गर्व महसूस होगा ।

You may also like

MERA DDDD DDD DD