Sargosian / Chuckles

येदियुरप्पा की नाखुशी और ‘संतोष’

कर्नाटक भाजपा के सबसे कद्दावर नेता बीएस येदियुरप्पा इन दिनों पार्टी आलाकमान से खासे अप्रसन्न बताए जा रहे हैं। कर्नाटक भाजपा के सूत्रों की माने तो इसके दो मुख्य कारण हैं। पहला कारण कुमारस्वामी सरकार को ऐन-केन प्रकारेण गिराने में जुटे येदियुरप्पा को पार्टी प्रमुख अमित शाह से अपेक्षित सहयोग नहीं मिलना है। हालांकि भाजपा अध्यक्ष ने कुमारस्वामी सरकार को गिराए जाने से रोकने की कोशिश नहीं की, लेकिन अपनी तरफ से सहयोग भी नहीं दिया। येदियुरप्पा की नाराजगी का एक बड़ा कारण रामलाल की जगह बीएस संतोष को भाजपा का संगठन महामंत्री बनाया जाना रहा है। कर्नाटक की राजनीति में येदियुरप्पा के घोर विरोधी रहे बीएस संतोष अब भाजपा अध्यक्ष के बाद पार्टी में सबसे ताकतवर पद पर हैं। जाहिर है ऐसे में कर्नाटक संबंधित मामलों में उनका रुख येदियुरप्पा के विपरीत रहेगा। कहा जा रहा है कि आने वाले समय में वे संघ की इजाजत से पूर्णकालिक राजनीति में भी प्रवेश कर सकते हैं। यदि ऐसा हुआ तो निश्चित ही वे कर्नाटक में भाजपा का अगला चेहरा बनेंगे। इन दो कारणों के चलते येदियुरप्पा न केवल नाराज हैं, बल्कि अपने भविष्य को लेकर चिंतित भी हो चले हैं।

You may also like