[gtranslate]

दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय 24, अकबर रोड में इन दिनों बड़ी चर्चा है कि राहुल गांधी के बेहद करीबी कहे-समझे जाने वाले के. राजू का जलवा अब समाप्त हो चला है। राहुल गांधी के सरकारी आवास 12, तुगलक रोड से अपनी ‘सल्तनत’ चलाने वाले राजू केंद्र सरकार में सचिव रह चुके हैं। 2013 में आईएएस सेवा से त्यागपत्र दे के. राजू कांग्रेस में शामिल हुए थे। राहुल संग करीबियत के चलते उन्हें ‘राहुल गांधी का अहमद पटेल’ कह पुकारा जाने लगा था। पार्टी ने आधिकारिक तौर पर राजू को एआईसीसी में अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ का मुखिया बनाया था लेकिन चलती उनकी हरेक मुद्दों पर थी। अब लेकिन कहा जा रहा है के. राजू का डाउनफॉल हो चला है और उनके स्थान पर सोनिया गांधी के निजी सचिव रहे वी. जॉर्ज एक बार फिर से ताकतवर हो उभरने लगे हैं। लंबे अर्से तक हाशिए में पड़े जॉर्ज ने आते ही अपने करीबी कांग्रेसियों को मुख्यधारा में लाने का काम शुरू कर डाला है। पिछले दिनों कांग्रेस ने अपनी अनुशासन समिति का पुनर्गठन कर ए.के. एंटोनी की अध्यक्षता में नई कमेटी का ऐलान किया जिसमें वी. जॉर्ज की छाप स्पष्ट नजर आई। कमेटी में जॉर्ज के करीबी पी. परमेश्वर और अंबिका सोनी का होना साफ करता है जॉर्ज ने अपनी धमाकेदार रिइन्ट्री करा डाली है। सूत्रों के अनुसार आने वाले समय में जॉर्ज का प्रयास पार्टी के लिए अगला अहमद पटेल बनना होगा।

You may also like

MERA DDDD DDD DD