[gtranslate]

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के कुछ ही महीने बचे हैं। ऐसे में राज्य सरकार में नंबर दो के मंत्री टीएस सिंह देव को लेकर फिर से अटकलें लगने लगी हैं। चुनाव से ठीक पहले उन्होंने फिर एक शिगूफा छोड़ा है। उन्होंने कहा है कि वे चुनाव से पहले अपने भविष्य के बारे में फैसला करेंगे। हालांकि जब इस पर चर्चा शुरू हुई तो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सफाई देते हुए कहा कि मीडिया ने टीएस सिंहदेव के बयान को गलत तरीके से पेश किया है। बघेल के मुताबिक सिंह देव ने कहा कि वे अगला विधानसभा चुनाव लड़ने के बारे में अपने समर्थकों से पूछ कर फैसला करेंगे। वहीं यह भी बहुत स्वाभाविक बात है कि बघेल भी चुनाव लड़ने से पहले अपने समर्थकों से बात करते हैं और उसके बाद ही फैसला लेते हैं। हालांकि टीएस सिंह देव के कहने का वह मतलब नहीं था, जो भूपेश बघेल कह रहे हैं। असल में सिंह देव ने कांग्रेस आलाकमान के सामने फिर से अपनी दावेदारी पेश की है। हालांकि उनको पता है कि अब मुख्यमंत्री नहीं बदला जाएगा। जब ढाई साल पूरे होने के मौके पर वे बघेल को नहीं बदलवा पाए तो अब बदले जाने की संभावना नहीं है। फिर भी उन्होंने आगे की रणनीति को ध्यान में रख कर अपना दावा पेश किया है। चर्चा है कि वे इस बहाने पार्टी छोड़ने का फैसला भी कर सकते हैं। क्योंकि उनको पता है कि अगर किसी वजह से कांग्रेस फिर जीत गई तो उसका पूरा श्रेय बघेल को मिलेगा और वे ही सीएम बनेंगे। अगर कांग्रेस नहीं जीत पाती है तो फिर किसी तरह की दावेदारी का कोई मतलब नहीं है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD