दिल्ली में मिली करारी पराजय से सबक लेते हुए अब भाजपा पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को सत्ता से बाहर करने की रणनीति बनाने के लिए कमर कस रही है। पार्टी सूत्रों की मानें तो स्वयं प्रधानमंत्री मोदी ने कमान अपने हाथों में ले ली है। मोदी पश्चिम बंगाल से भाजपा सांसदों संग वन टू वन बैठकों का सिलसिला शुरू भी कर चुके हैं।

पीएम ने इन सांसदों को केंद्र सरकार की जनकल्याण योजनाओं को हर कीमत में धरातल पर उतारने का जिम्मा दे डाला है। प्रधानमंत्री से मिलने वाले सांसदों ने पीएम को आश्वस्त किया है कि नागरिकता संशोधन कानून का कोई खास असर पश्चिम बंगाल में नहीं है। साथ ही इन सांसदों ने पीएम को भरोसा दिलाया है कि इस बार राज्य की जनता त्रृणमूल कांग्रेस के बजाए मोदी के विकास मॉडल पर वोट डालेगी। जानकारों की मानें तो मोदी ने इन सांसदों को अति आत्मविश्वास से बचने की सलाह दी है।

You may also like