[gtranslate]

विख्यात अर्थशास्त्री और सांसद डाॅ सुब्रमण्यम स्वामी अपनी ही पार्टी भाजपा पर लगातार हमलावर हो रहे हैं। लुटियंस दिल्ली में बड़ी चर्चा का विषय बन चुके स्वामी पर भाजपा आलाकमान की चुप्पी को लेकर नाना प्रकार की कयासबाजियों का बाजार गर्म हैं। चीन के मित्र समझे जाने वाले स्वामी ने सीधे प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कुछ अरसा पहले ट्विट कर दावा कर डाला कि भारत की जमीन पर चीनी कब्जा है। पीएम का माखौल उड़ाते हुए उन्होंने कह डाला कि जब कोरोना के केस कम हो रहे थे तो अंधभक्त किसको श्रेय दे रहे थे? और अब महामारी दोबारा फैल रही है तो इसका श्रेय किसको मिलेगा? इतना ही नहीं सीधे पीएम पर अटैक करते हुए उन्होंने बजरिए ट्विटर पीएमओ पर आरोप लगा डाला कि फेक आईडी बना भाजपा के लोकप्रिय नेताओं की छवि बिगाड़ने का काम सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय से किया जा रहा है। राम सेतु प्रकरण पर भी स्वामी बेहद आक्रामक अंदाज पर पीएम के खिलाफ सक्रिय रहे हैं। अर्थव्यवस्था की बदहाली को लेकर भी वे लगातार केंद्र सरकार को अपने निशाने पर रखे हुए हैं। दिल्ली के सत्ता केंद्र लुटियंस में इस बात को लेकर खासा आश्चर्य है कि स्वामी के खुले विरोध के बाद भी मोदी-शाह उन पर रिएक्शन देने से क्यों बच रहे हैं? साथ ही स्वामी पर पार्टी अध्यक्ष अनुशासनहीनता की कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं?

You may also like

MERA DDDD DDD DD