[gtranslate]

अगले साल लोकसभा और इस साल के अंत में होने वाले कई राज्यों के विधानसभा चुनावों को लेकर एक ओर जहां भाजपा अपने सहयोगी पार्टियों को मनाने में जुटी हुई है वहीं दूसरी तरफ हरियाणा में गठबंधन सरकार चला रही बीजेपी और जेजेपी के बीच मतभेद दिन-प्रतिदिन बढ़ते दिख रहे हैं। अटकलें लगाई जा रही हैं कि दोनों दलों के बीच मनमुटाव खत्म नहीं हुआ तो जल्द ही यह गठबंधन टूट सकता है। हालांकि राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इन अटकलों को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि कहीं कोई समस्या नहीं है और दोनों दल मिलकर सरकार चला रहे हैं। दरअसल हरियाणा में अगले साल लोकसभा के साथ-साथ विधानसभा के भी चुनाव होने वाले हैं। इस बीच हरियाणा के बीजेपी प्रभारी बिप्लब कुमार देव ने बीते दिनों उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पर निशाना साधा था, जिसे लेकर जेजेपी खासी नाराज है। जिस पर खट्टर ने सफाई देते हुए कहा, ‘प्रभारी संगठन के लिए होते हैं सरकार के लिए नहीं। उनका हमारा गठबंधन चुनावी नहीं था, दोनों की आवश्यकता थी, जनहित में यह करना था, किया। जनहित में सबसे जरूरी यही होता है। गौरतलब है कि हरियाणा के पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 90 सदस्यीय विधानसभा में 40 सीटें जीती थीं, वहीं जेजेपी ने 10 सीटों पर जीत दर्ज की थी। ऐसे में दोनों दलों ने सरकार गठन के गठबंधन का फैसला किया था। तब राज्य के 7 निर्दलीय विधायकों में से 6 ने भी बीजेपी का समर्थन किया था।

You may also like

MERA DDDD DDD DD