Sargosian / Chuckles

मुलायम का राजनीतिक बनवास

हिंदी पट्टी की राजनीति पर लगभग तीन दशक तक राज करने वाले सपा नेता मुलायम सिंह यादव इन दिनों अपने ही पुत्र के दांव से चित्त हो राजनीतिक वनवास भोगने को अभिशप्त हो चुके हैं। पश्चिम बंगाल में विपक्षी दलों की विशाल रैली में जहां पूर्व पीएम देवगौड़ा अपने मुख्यमंत्री पुत्र संग मंच में विराजे थे, फारुख अब्दुल्ला अपने पुत्र उमर अब्दुल्ला और अजीत सिंह अपने पुत्र जयंत चौधरी के साथ रैली में शिरकत करते नजर आए, वहीं अखिलेश यादव का बगैर अपने पिता मुलायम सिंह के रैली में आना चर्चा का बाजार गर्म कर गया। खबर है कि अपने बेटे द्वारा पूरी तरह हाशिए में डाल दिए गए मुलायम जल्द ही अपने भाई शिवपाल के पक्ष में उतरने का मन बना रहे हैं। राजनीति में कई दिग्गजों को पटखनी दे चुके मुलायम का यह हश्र, वह भी उनके ही पुत्र द्वारा कइयों को खासा सुहा रहा है तो कुछेक मुलायम समर्थक इससे नाखुश भी बताए जा रहे हैं।
1 Comment
  1. What a data of un-ambiguity and preserveness of valuable knowledge on the topic of unpredicted emotions.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like