[gtranslate]
कर्नाटक की राजनीति में गौड़ा परिवार वक्त-बेवक्त आंसू बहाने के लिए खासा मशहूर है। पूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा अक्सर प्रेसवार्ता करते समय इमोशनल हो जाते हैं। यही हाल उनके बेटे और कर्नाटक के सीएम कुमार स्वामी का भी है। जब से वे कांग्रेस के समर्थन से सीएम बने हैं कई बार सार्वजनिक रूप से आंसू बहा चुके हैं। मान्डया लोकसभा चुनाव में उनके पुत्र निखिल कांग्रेस-जद (सेक्युलर) के प्रत्याशी है। उनका मुकाबला निर्दलीय उम्मीदवार सुमलाथा अम्बरीश से है जो कन्नड़ फिल्मों के सुपर स्टार एवं अम्बरीश की पत्नी हैं। खास बात यह कि कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री तो पूरी तरह से सुमलाथा का समर्थन कर ही रही हैं। भाजपा ने भी इस सीट पर अपना उम्मीदवार नहीं उतारा है। कुमार स्वामी को भय है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्दारमैया भी गुपचुप सुमलाथा के पक्ष में काम कर रहे हैं। मान्डया सीट दोनों दलों में हुए समझौते अनुसार कांग्रेस के खाते में जानी थी लेकिन पुत्र मोह में कुमारस्वामी अड़कर यह सीट अपनी पार्टी के नाम पर करा लिए। अब हालात यह हैं कि तमिल सुपर स्टार रजनीकांत तक सुमलाथा के लिए प्रचार में उतर चुके हैं। ऐसे में पिछले दिनों एक रैली को संबोधित करते समय कुमारस्वामी ने फिर से इमोशनल कार्ड खेल डाला। वे फूट-फूट कर मंच से ही रोने लगे ताकि सहानुभूति का लाभ उठा सकें। खबर है कि यह सीट सुमनलाथा जीत सकती हैं। यदि ऐसा होता है तो इसका दुष्परिणाम कर्नाटक की सरकार पर पड़ना तय है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD