[gtranslate]

कांग्रेस के भीतर भारी उथल-पुथल का दौर जारी है। पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को 23 वरिष्ठ कांग्रेसियों की चिट्ठी से उठा बवाल अभी थमा नहीं है। पार्टी सूत्रों का दावा है कि सोनिया गांधी बड़े पैमाने पर संगठन में फेरबदल करने जा रही है। कांग्रेस वर्किंग कमेटी और केंद्रीय कार्यकारिणी में पिछले दिनों किए गए बदलाव साफ इशारा करते नजर आ रहे हैं कि इन 23 नेताओं का कद अब लगातार कम किया जाएगा। खबर यह भी है कि कई प्रदेशों के अध्यक्ष बदले जाएंगे और 23 कथित बागी नेताओं के करीबी प्रदेश नेताओं को भी ठिकाने लगाया जाएगा। इस सबके बीच इन 23 नेताओं में शामिल रहे मुकुल वासनिक पर कांग्रेस अध्यक्ष की मेहरबानी को लेकर तरह-तरह के कयासों का दौर चल रहा है। वासनिक 23 नेताओं में शामिल हैं जिनकी सोनिया को लिखी चिट्ठी ने भारी हंगामा पैदा किया। लेकिन इन नेताओं का कद एक तरफ कम किया गया तो दूसरी तरफ वासनिक का कद बढ़ाया गया। उन्हें सोनिया गांधी की अनुपस्थिति में पार्टी के लिए निर्णय लेने वाली छह सदस्यीय समिति में शामिल किया गया है जिसमें पांच बाकी सदस्य सोनिया के खासे करीबी माने जाते हैं। इतना ही नहीं वासनिक को कांग्रेस कार्य समिति का सदस्य और मध्य प्रदेश कांग्रेस का प्रभारी महामंत्री भी बना दिया गया है। जानकारों की मानें तो अब बाकी बचे 22 नेताओं को लगने लगा है कि वासनिक उनके खेमे में सोनिया के जासूस थे। उनके जरिए ही पार्टी आलाकमान इन बागियों पर नजर बनाए हुए थी। सच चाहे जो हो, वासनिक का कद पार्टी खासा बढ़ चुका है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD