Sargosian / Chuckles

दोस्तों का बदलता मिजाज

भाजपा की केंद्र में वापसी को लेकर अनिश्चय की स्थिति के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चहेते उद्योगपतियों में भारी घबराहट के स्पष्ट संकेत दिखने लगे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम को सबसे ज्यादा अंबानी-अडानी समूह पर कøपा बरसाने के लिए टारगेट पर रखते आए हैं। अब ऐसे समाचार कॉरपोरेट जगत से निकल सत्ता के गलियारों में टहल रहे हैं कि अडानी कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के नेताओं संग अपनी मित्रता बढ़ाने में लग गए हैं। इसकी शुरुआत आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू से कर चुके हैं। उनका समूह जल्द ही बड़ा पूंजी निवेश नायडू के राज्य में करने जा रहा है। इस बीच मोदी के एक अन्य प्रशंसक स्वामी रामदेव के भी सुर कुछ बदले-बदले से नजर आने लगे हैं। रामदेव अब खुलकर भाजपा के पक्ष में उतरने से कतरा तो रहे ही हैं, सूत्रों का दावा है कि वे भी विपक्षी नेताओं से अपने संबंध स्थापित करने में जुट चुके हैं।

9 Comments
  1. PhillipFem 1 month ago
    Reply

    xxx

  2. Erica Legalley 4 weeks ago
    Reply

    Hi there, I found your site via Google while searching for a related topic, your website came up, it looks good. I’ve bookmarked it in my google bookmarks.

  3. gamefly 3 weeks ago
    Reply

    If you wish for to increase your familiarity just keep
    visiting this web page and be updated with the most recent news update posted
    here.

  4. Syble Trautman 2 weeks ago
    Reply

    I will immediately grab your rss as I can not find your e-mail subscription link or e-newsletter service. Do you have any? Please let me know in order that I could subscribe. Thanks.

  5. Hi! This is my first visit to your blog! We are a team of volunteers and starting a new initiative in a community in the same niche.
    Your blog provided us beneficial information to work on. You have
    done a extraordinary job!

  6. This piece of writing will assist the internet viewers for setting up new weblog or even a blog
    from start to end.

  7. g 1 week ago
    Reply

    Hi! This is my first comment here so I just wanted to give a quick shout out and tell
    you I genuinely enjoy reading through your articles. Can you recommend any other blogs/websites/forums that deal with the
    same subjects? Many thanks!

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like