[gtranslate]
हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला इन दिनों अवसाद ग्रस्त बताए जा रहे हैं। खबर है कि दुष्यंत चैटाला का भाजपा संग जाना उनके कोर वोट बैंक यानी जाट समाज को खासा अखर रहा है। हरियाणा की राजनीति में एकछत्र राज करने वाले जाटों को भाजपा ने नए गैर जाट समीकरण बना हाशिए में डालने का काम किया है। दशकों से जिस राज्य में जाट बिरादरी का ही मुख्यमंत्री बनता आया हों, वहां बनिया, पंजाबी और गैर जाट ओबीसी मतदाता को साध भाजपा ने खट्टर को 2014 में सीएम बना डाला था। 2019 में यदि दुष्यंत कांग्रेस संग हाथ मिला लेते तो शायद एक बार फिर से जाट सीएम बन जाता, लेकिन वे भाजपा संग हो लिए। जानकारों की मानें तो दुष्यंत पर भारी दबाव है कि वे भाजपा से समर्थन वापस ले लें। दूसरी तरफ यह भी चर्चा जोरों पर है कि भाजपा चैटाला के पांच विधायक तोड़ने में जुटी है ताकि खट्ठर सरकार बगैर चैटाला की बैसाखी चल सके।

You may also like

MERA DDDD DDD DD