[gtranslate]
Latest news

राष्ट्रपति बोले- अनैतिक कार्यों की वजह से लंकेश बन गया बुराई का प्रतीक

देशभर में धूमधाम से दशहरा मनाया जा रहा है। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली के रामलीला मैदान में लव-कुश रामलीला कमेटी के समारोह में पहुचे। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी धार्मिक रामलीला कमेटी के समारोह में शामिल होने पहुंची। इसके अलावा भी देशभर में रावण दहन हुआ।

इस दौरान रावण दहन से पहले संबोधित करते हुए राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि यह विजयादशमी का त्योहार मानव मूल्यों और आदर्शों की उत्कृष्टता का प्रतीक है। यह एक ऐसा पर्व है, जो समाज में सच्चाई, नैतिकता और मर्यादापूर्ण व्यवहार को अपनाने की प्रेरणा देता है। लंकेश रावण जैसे विद्वान और वैभव से परिपूर्ण एक राजा को अमानवीय तथा अनैतिक कार्यों की वजह से बुराई के प्रतीक के रूप में देश के कोने-कोने में उसका एक पुतले के रूप में दहन किया जाता है। मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु राम का आदर्श जीवन पूरे मानव समाज के लिए विजयदशमी का मुख्य संदेश है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD