[gtranslate]
entertainment

सिनेमा छोड़ संन्यास क्यों लेते रहे हैं सितारे

जनार्दन कुमार सिंह

अध्यात्म समाज की एक ऐसी जीवनशैली है हर कोई अनुसरण कर सकता है चाहे महिला हो या पुरुष, अमीर हो या गरीब। मगर कुछ लोग इसे नहीं मानते हैं। आध्यात्मिक गुरु ओशो भी इससे इत्तेफाक नहीं रखते थे। वे कहते थे सिर्फ अमीर लोग ही अध्यात्म की अनुभूति कर सकते हैं। गरीब की प्राथमिकताएं तो उन्हें ऐसा करने से रोकती हैं। इसी वजह से ओशो का अनुसरण करने वालों में हाई सोसायटी के लोग ज्यादा हुआ करते हैं। इस लिस्ट में कुछ बॉलीवुड सितारे भी शामिल हैं। इनमें सबसे ज्यादा चर्चित नाम अभिनेता विनोद खन्ना का रहा। हालांकि विनोद खन्ना कुछ सालों बाद वापस अभिनय की दुनिया में लौट आए। इसी कड़ी में अब एक और नाम जुड़ गया है कलर्स टीवी के रियलिटी शो बिग बॉस सीजन 6 की कॉन्टेस्टेंट और अभिनेत्री सना खान की।

सना खान इन दिनों अपनी शादी को लेकर सुर्खियों में हैं। उन्होंने इस्लाम धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए ग्लैमरस चकाचौंध से अपने को दूर कर लिया है। दरअसल, सना खान ने हाल ही में सूरत के मौलाना अनस मुफ्ती से शादी कर ली है। कई और ऐसे सितारे हैं जिन्होंने अध्यात्म और धार्मिक प्रचार-प्रसार के लिए अभिनय की दुनिया से दूरी बना ली है।

अभिनेत्री ममता कुलकर्णी 90 के दशक की सबसे बोल्ड अदाओं वाली अभिनेत्रियों में गिनी जाती थी। उन्होंने तब अपनी अदाओं से दर्शकों के दिलों में एक खास जगह बनाई थी। एक टॉपलेस फोटोशूट कराकर तहलका मचा दिया था। तब डायरेक्टर-प्रोड्यूसर्स ने ममता को अपनी फिल्मों में काम देने की इच्छा जाहिर की और यहीं से ममता के लिए ग्लैमर का रास्ता खुला। बाद में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन से संबंध होने की खबरें आने लगी। कुछ समय बाद उनका नाम ड्रग तस्कर विजय गोस्वामी से जुड़ गया। दोनों ने शादी कर ली। तस्करी मामले में विजय को जेल जाना पड़ा। उसके बाद ममता ने अपने को भक्ति में लीन कर लिया। उन्होंने ‘ऑटोबायोग्राफी ऑफ एन योगिन’ नाम की एक किताब भी लिखी।

फिल्म ‘दंगल’ की अभिनेत्री जायरा वसीम ने अपने अभिनय से सभी को जितनी तेजी से अपना मुरीद बना लिया। उतनी ही जल्द जायरा ने फिल्म इंडस्ट्री से दूरी बना ली। उन्होंने ‘दंगल’ के अलावा कई बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है। ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ और ‘द स्काई इज पिंक’ फिल्म में भी नजर आईं। सोशल मीडिया में एक पोस्ट जारी कर जायरा ने लिखा कि अब वह धर्म के प्रचार-प्रसार पर अपना पूरा ध्यान लगाएंगी। उनके इसी फैसले ने सबको सकते में डाल दिया था। और अब वह लाइम लाइट से दूर हैं।

बिग बॉस सीजन 8 की प्रतिभागी रह चुकी और अभिनेत्री सोफिया हयात ने भी कुछ इसी तरह फिल्मी दुनिया से दूरी बना ली है। वह अपने को नन बताती हैं। सोफिया सोशल मीडिया पर कई ऐसे तस्वीर जारी कर चुकी हैं जिसमें वह नन के लिबास में नजर आ रही हैं। इससे पहले सोफिया ने क्रिकेट के पिच पर बिना कपड़े में फोटो शूट कराकर सबको सकते में डाल दिया था।

जुलाई 1990 में आई फिल्म ‘आशिकी’ फेम अभिनेत्री अनु अग्रवाल की जिंदगी उस वक्त बदल गई जब वे एक दुर्घटना की शिकार हो गई थी। तब वह करीब एक महीने तक कोमा में थी। डॉक्टर्स ने यहां तक कह दिया कि वे तीन साल से ज्यादा जीवित नहीं रह सकती। वापस जिंदगी में आने के लिए उन्हें योग से काफी मदद मिली। इसके बाद उन्होंने स्लम के बच्चों को योग सिखाना शुरू किया, फिर उन्हें योग पर चर्चा के लिए अलग-अलग संस्थाओं से बुलाया जाने लगा। अब तो उन्होंने अपना इंस्टीट्यूट भी खोल लिया है। जहां लोगों को योग सिखाती हैं और आध्यात्मिक जिंदगी बिता रही हैं।

वर्ष 1994 में मिस इंडिया फाइनलिस्ट रह चुकी बरखा मदान ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत ‘खिलाड़ियों का खिलाड़ी’ से की। इसके बाद सात साल तक कहीं नजर नहीं आई और एक बार फिर रामगोपाल वर्मा की फिल्म ‘भूत’ के साथ वापसी की। लेकिन वह कुछ खास मुकाम हासिल नहीं कर पाई। इसके बाद 2002 में धर्मशाला के एक कार्यक्रम में दलाई लामा से प्रभावित हो गई और यहीं पर उन्होंने नन बनने का फैसला लिया। एक बार फिर साल 2012 में उन्होंने फिल्मी दुनिया को छोड़ने का फैसला लिया और वह बौद्ध धर्म की नन बन गईं। तब से वह नन के तौर पर जिंदगी बिता रही हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD