[gtranslate]
entertainment

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों पर विवाद की छाया, कंगना के बेस्ट एक्ट्रेस अवार्ड पर भारी हो-हल्ला

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की घोषणा हो चुकी है। सोमवार 22 मार्च को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने प्रेस कान्फ्रेंस की जरिये अवार्ड की घोषणा की। कोरोना महामारी के चलते 2020 के अवार्ड्स टाल दिए गए थे। अवार्ड्स डायरेक्टरेट ऑफ फिल्म फेस्टीवल द्दारा दिए जाते है, जो केंद्रीय सूचना एवं ब्रॉडकास्टिंग मंत्रालय के अंतर्गत आता है। इस बार कंगना रनौत को दो फिल्मों के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड मिला है। तो वहीं दिंवगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की अंतिम फिल्म जो सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी, उसे बेस्ट फीचर फिल्म का अवार्ड मिला है। मनोज बाजपेयी को भोंसले के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड और तेरी मिट्टी गाने के लिए बी प्राक को बेस्ट प्लेबैक सिंगर के लिए चुना गया है। यह गाना बी प्राक ने अक्षय कुमार स्टारर केसरी के लिए गाया था।

मनोज बाजपेयी के अलावा साउथ एक्टर घनुष को असुरन के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड दिया गया है। पल्लवी जोशी को बेस्ट स्पोर्टिंग एक्टर का एन इंजीनियर्ड ड्रीम को नॉन फीचर कैटगरी में बेस्ट फिल्म का अवार्ड मिला है। इस बार सोहिनी चट्टोपाध्याय को बेस्ट फिल्म समीक्षक और बेस्ट डायरेक्टर का अवार्ड बहत्तर हूरें के लिए संजय कुमार को दिया गया है। बेस्ट चिल्ड्रन फिल्म अवार्ड फिल्म कस्तूरी को और बेस्ट स्क्रीन प्ले (डॉयलॉग राइटर) विवेक रंजन अग्निहोत्री को ताशकंद फाइल फिल्म के लिए मिला है। सिक्किम को फिल्म फ्रेडली स्टेट का दर्जा मिला है।

नेशनल अवार्ड पाना हर एक्टर का सपना होता है। लेकिन कंगना रनौत उन भाग्यशाली एक्ट्रेस में एक बन गई जिन्हें एक नहीं दो नही बल्कि चार बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड्स मिला है। चार अवार्ड मिलने के बाद कंगना रनौत ने अमिताभ बच्चन की बराबरी कर ली है। फैशन हो, क्वीन हो, तनु विड्स मनु हो इन सभी में कंगना ने अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया है। लेकिन इस बार कंगना को अवार्ड्स मिलने पर लोगों ने अपनी अलग तरह की प्रतिक्रिया दी है। कंगना को अवार्ड्स दिए जाने के पीछे कंगना का बीजेपी समर्थित होना मानते है। मणिकर्णिका और पंगा दोनों औरत के साहस, ताकत और जिंदगी को दर्शाती है। लेकिन फिल्म समीक्षक मानते है कि साल 2019 में इससे भी अच्छी फिल्में रिलीज हुई थी। हालांकि पंगा ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन नहीं किया, लेकिन मणिकर्णिका ने अच्छी कमाई की थी।

 

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों को लेकर छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने तंजभरा ट्वीट किया है। ट्वीट को कुछ समय के बाद डलीट कर दिया गया था, लेकिन उसके स्क्रीन शॉट वायरल हो चुके है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने नेशनल फिल्म अवार्ड्स पाने वाले कलाकारों पर तंज करते हुए एक लकड़ी के घोड़े की तस्वीर शेयर की। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अधिकारिक पेज ने लकड़ी के घोड़े की तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट में लिखा, ‘राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए टूलकिट’।

कांग्रेस नेता अभिषेक सिंधवी ने ट्वीट करते हुए लिखा “इस बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा हुई है या राष्ट्रवादी पुरस्कारों की”?

कांग्रेस नेता उदित राज ने ट्वीट करते हुए लिखा “कंगना रनौत को जब फ़्री में Y+ सुरक्षा दे दिया तो वैसे ही बेस्ट ऐक्ट्रेस का अवार्ड भी मिल गया”। बिहार के बाहुबली नेता पप्पू यादव ने भी कंगना को बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड दिए जाने पर विरोध किया।

पप्पू यादव ने अपने ट्वीट में कहा “कंगना को पंगा के लिए नहीं दंगा कराने वाली मानसकिता चाटुकारिता, घटिया नजरिया के लिए मिला है राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार” तो वहीं उन्होंने बिहार के अभिनेता मनोज बाजपेयी को भोंसले के लिए बेस्ट एक्टर और सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म छिछोरे को अवार्ड मिलने पर खुशी जाहिर की।

You may also like

MERA DDDD DDD DD