[gtranslate]
entertainment

जावेद अख्तर ने नमाज पर आए फतवा का किया समर्थन, यूज़र्स ने किया ट्रोल

जावेद अख्तर ने नमाज पर आए फतवा का किया समर्थन, यूजर्स ने किया ट्रोल

प्रसिद्ध लेखक और गीतकार जावेद अख्तर मंगलवार को सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए। देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच उन्होंने मस्जिदों को बंद करने को लेकर एक ट्वीट किया। उन्होंने ये ट्वीट सोमवार रात किया था, जिसके बाद यूजर्स ने उन्हें ट्रोल कर दिया।

जावेद अख्तर ने अपने ट्वीट में लिखा था, “एक विद्वान और अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष ताहिर मेहमूद साहब ने दारुल उलूम देवबंद से एक फतवा जारी कर कोरोना संकट के रहने तक सभी मस्जिदों को बंद करने का निर्देश देने के लिए कहा है। मैं उनकी मांग का पूर्णतया समर्थन करता हूं, अगर काबा और मदीना की मस्जिदें बंद हो सकती हैं, तो भारतीय मस्जिदें क्यों नहीं?”

इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें निशाने पर लिया। एक जाफर अली नाम के यूजर ने पूछा, “और ऐसा क्यों है कि भारत की सभी मस्जिदों को बंद करने के लिए हमें फतवे की जरूरत है और भारत सरकार का अनुरोध/आदेश पर्याप्त नहीं है?”

आकांक्षा राव नाम की यूजर ने कमेंट करके जावेद अख्तर से पूछा, “फतवा क्यों, क्या हम मध्यकाल में रह रहे हैं? क्यों आप सिर्फ देश के कानूनों का पालन नहीं कर सकते।”

दिलीप सारंगी नाम के एक और यूजर ने कमेंट करते हुए पूछा, “फतवा क्यों, सरकार ने पहले ही तालाबंदी के आदेश दे दिए थे।” जवाब में अख्तर ने लिखा, “कुछ सामान्य बुद्धि और धैर्य रखो भाई, क्या आप ये नहीं देखना चाहते कि वे इस अनुरोध पर कैसी प्रतिक्रिया देते हैं। कम से कम मैं तो ये जानने के लिए उत्सुक हूं।”

देश में सोमवार को एक दिन में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा 208 मामले सामने आए थे। इनमें से महाराष्ट्र में 35 और केरल में 32 मरीज मिले। दिल्ली में 25, उत्तरप्रदेश में 24, आंध्रप्रदेश में 19, तमिलनाडु में 17-17, जम्मू-कश्मीर में 11, राजस्थान में 10, मध्यप्रदेश में 8, कर्नाटक में 8, गुजरात में 7, चंडीगढ़ में 5, पंजाब में 3 और छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, हरियाणा और अंडमान-निकोबार में 1-1 रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

You may also like