entertainment

नए स्टार से सुपर स्टार तक

साल 2019 की शुरुआत के तीन माह नए कलाकारों को समर्पित रहे हैं। नए कलाकारों की फिल्मों के साथ बॉक्स ऑफिस के लिहाज से यह समय बहुत अच्छा गया। लगभग सभी फिल्मों ने बढ़-चढ़कर कारोबार किया और सबसे अच्छी बात रही कि लोकप्रियता के शिखर पर पहुंच चुके सितारों की फिल्में इस साल अब तक बहुत कम रहीं।

साल की शुरुआत के दूसरे हफ्ते में रिलीज हुई ‘उरी द सर्जिकल स्ट्राइक’। इस फिल्म में विक्की कौशल मुख्य भूमिका में थे और फिल्म ने सारी उम्मीदों को पीछे छोड़ते हुए 244 करोड़ का कारोबार किया। इस फिल्म की सफलता ने विक्की को और मजबूती से बॉलीवुड में जमा दिया। सेना के संघर्ष और पाकिस्तान को करारा जवाब देने की पृष्ठभूमि को दर्शकों ने बहुत पसंद किया। उरी ने जो ओपनिंग दी उसने बॉलीवुड का जोश हाई कर दिया।

पिछले तीन माह में चार फिल्में 100 करोड़ के क्लब में पहुंच गई हैं। इनमें से एक ‘उरी द सर्जिकल स्ट्राइक’ है जिसने 244 करोड़ का कारोबार किया। ‘टोटल धमाल’ ने 155 करोड़ का कारोबार किया। ‘गली ब्वॉय’ ने भी 100 करोड़ से ऊपर का कारोबार किया और 139 करोड़ इकट्ठे किए। चौथी फिल्म ‘केसरी’ रही। इसका टोटल कलेक्श न 134 करोड़ रहा।

इनके अलावा कुछ और फिल्में हैं जिन्होंने अपनी छाप छोड़ी। इसमें सबसे पहला नाम कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन कंगना की ‘मणिकर्णिका’ का है। फिल्म रिलीज से पहले ही चर्चा में आ गई। इसका भी लाभ फिल्म को मिला और रानी लक्ष्मी बाई के जीवन पर बनी इस फिल्म ने 94 करोड़ का कलेक्शन किया। ‘लुका-छुपी’ इस श्रेणी में दूसरी फिल्म है। इस हल्की-फुल्की कॉमेडी फिल्म ने भी सारे बंधन तोड़ते हुए 92 करोड़ का कारोबर किया। इस फिल्म की सफलता ने कøति सेनन और कार्तिक आर्यन को भी मुख्य धारा में ला दिया। इसका सबसे ज्यादा फायदा कार्तिक को होगा, क्योंकि अब तक उन्हें जितना भी जाना-पहचाना गया है वो मल्टी स्टारर फिल्मों से ही है। लेकिन यह पहली फिल्म है जिसमें वह अकेले हैं और फिल्म ने कमाई भी की। इस लाइन में ‘बदला’ फिल्म भी आती है। तापसी पुन्नूस के इर्द गिर्द-घूमती इस कहानी ने दर्शकों को सिनेमा घरों तक खींचा और 83 करोड़ का कारोबार कर लिया। यह अपने आप में बॉलीवुड के लिए उपलब्धि है कि कलाकारों की यह लाइन भी अब बॉक्स ऑफिस को गर्म रख सकती है।


इस प्रकार देखा जाए तो हर लिहाज से 2019 की शुरुआत बॉलीवुड के लिए शानदार रही है। बॉक्स ऑफिस कलेक्शन की गारंटी देने वाले खान बंधु अभी नई फिल्म की तैयारी ही कर रहे हैं। इस दौरान कुछ ऐसी फिल्में भी आईं जो सीरियस और कॉन्सेप्ट बेस्ड थी। दर्शकों ने उन्हें भी सराहा। इनमें ‘हामिद’, ‘फोटोग्राफ’, ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ और ‘सोनचिड़िया’ शामिल हैं। इन फिल्मों को पसंद किया जाना साफ संकेत हैं कि दर्शक मनोरंजन की तलाश में है और अब मसाला फिल्मों को दौर भी खत्म होने की कगार में है। इसलिए अच्छी बेहतरीन कहानी की तलाश में दर्शक हर फिल्म को जज कर रहे हैं। या नए सुपर स्टार की तलाश भी जनता को सिनेमा घर तक ले जा रही है। खैर अभी पूरा साल पड़ा है और इस तरह की ओपनिंग के बाद सबकी उम्मीदें आसमान को छू रही होंगी।

You may also like