बॉलीवुड फिल्मों में कई सीन ऐसे होते हैं जिन्हें देखकर दर्शक अक्सर सोच में पड़ जाते हैं कि कैसे इस सीन को शूट किया गया होगा। कमजोर पहियों के साथ तांगा या गाड़ी चलाना, ऊंची इमारतों से नीचे गिरना, तलवारबाजी, फाइट, रस्सी पर चलना-चढ़ना, चलती गाड़ी से कूदना और खतरनाक जानवरों से लड़ाई करना जैसी सीन आम दर्शकों की जिज्ञासा का भी कारण होते हैं। आखिरकार नायक-नायिका कैसे इतने खतरनाक सीन कर देते होंगे? बॉलीवुड में कई ऐसी फिल्में बनी हैं जिनमें बोल्ड सीन हो या स्टंट का जबर्दस्त तड़का लगा है। इन फिल्मों में ‘शोले’, ‘ऐतराज’, ‘कुर्बान’, ‘हेट स्टोरी’, ‘मर्डर’, ‘दबंग’ आदि कई फिल्में शामिल हैं। आज हम आपको बॉलीवुड फिल्मों का वह सच बताने जा रहे हैं जिसे जानकर आपको यकीन करना मुश्किल होगा। दरअसल, फिल्मों में सितारे खुद नहीं, बल्कि अक्सर उनके बॉडी डबल (डुप्लीकेट) यह सीन करते हैं। तो चलिए आपको बताते हैं किन- किन फिल्मों में बोल्ड या स्टंट सीन में डुप्लीकेट का इस्तेमाल किया गया है।


दिसंबर 2019 में आने वाली बॉलीवुड के भाईजान की सुपरहिट फिल्म की सीरीज में शामिल ‘दबंग-3’ की शूटिंग पूरी हो चुकी है। चर्चा है कि इस फिल्म में भी सलमान के बॉडी डबल की चर्चा है। दरअसल, ‘दबंग-3’ की शूटिंग पूरी करने के बाद सलमान ने खुद इसके क्रू मेंबर के साथ एक वीडियो जारी किया है। जिसमें वह 6 अक्टूबर को अपने ऑन स्क्रीन पिता विनोद खन्ना के जन्मदिन पर उनको श्रद्धांजलि देते नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही वह अपने बॉडी डबल के कंधे पर हाथ रखे नजर आ रहे हैं जो पहनावे और एटीट्यूट से बिल्कुल उनकी तरह ही दिखता है। दरअसल, सलमान खान ने सोशल मीडिया पर अपने फैंस के साथ एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में सलमान विनोद खन्ना को श्रद्धांजलि देते नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही सलमान बता रहे हैं कि दबंग के पिछले दोनों पार्ट में उन्होंने (विनोद खन्ना) पिता का किरदार निभाया था। लेकिन अब ये किरदार विनोद खन्ना के भाई प्रमोद खन्ना निभाएंगे। गौरतलब है कि ‘दबंग-3’ में सलमान खान चुलबुल पांडे का किरदार निभाते नजर आएंगे। फिल्म का निर्देशन प्रभुदेवा ने किया है। फिल्म में सोनाक्षी सिन्हा, अरबाज खान और माही गिल के साथ ही सुदीप किच्चा और सई मांजरेकर भी नजर आएंगे।


15 अगस्त 1975 को आई रमेश शिप्पी की निर्देशित ‘शोले’ हेमा मालिनी के करियर की सबसे यादगार फिल्मों में से है। ‘शोले’ की तांगेवाली यानी कि बसंती का रोल लोग कभी भूल नहीं सके। इस फिल्म के एक सीन में बसंती ने जमकर तांगा दौड़ाया था। हालांकि इस रोल में हेमा मालिनी को दर्शकों ने खूब पसंद किया और सराहा भी। लेकिन क्या आपको पता है कि तांगेवाली के रोल में हेमा जी की बॉडी डबल थीं। इस बॉडी डबल में पहली स्टंट महिला थीं रेशमा पठान। रेशमा पठान जो कि कई अभिनेत्रियों के स्टंट की तारीफों के पीछे की मुख्य कारण रही हैं, उनकी बहादुरी पर ‘जी फाइव’ ने इसी वर्ष एक बायोपिक ‘द शोले गर्ल’ के नाम से बनाई है।

वर्ष 1988 में आई नाबेंदु घोष निर्देशित फिल्म ‘त्रिशाग्नि’। यह मोरू ओ सांघो की रीमेक है। इसकी मुख्य भूमिका में हैं कई हिंदी सिनेमा में बाबूजी का किरदार निभाने वाले आलोकनाथ, नाना पाटकर जो बुद्धिज्म की भूमिका में हैं और महाभारत में कृष्ण की भूमिका में रहे नितिश भारद्वाज व पल्लवी जोशी। ‘त्रिशाग्नि’ बॉलीवुड की पहली ऐसी फिल्म थी जिसमें जबर्दस्त बोल्ड सीन थे। इस फिल्म में एक बाथटब वाला सीन है। इस सीन में पल्लवी जोशी बाथटब में नहा रही होती हैं। इस सीन को पल्लीव ने नहीं, बल्कि उनकी डुप्लीकेट ने किया था।


सच्ची घटना पर आधारित फिल्म ‘बैंडिट क्वीन’ को के निर्देशक शेखर कपूर सबसे ज्यादा सर्वश्रेष्ठ फिल्म फेयर अवार्ड से नवाजे गए हैं। यह फिल्म एक समय की दस्यु सुंदरी फूलन देवी के जीवन पर आधारित है। फूलन देवी निचली जाति की हैं, वह समाज में यौन उत्पीड़न और भेदभाव का सामना करती हैं। घटनाओं के मोड़ में परिस्थितियां उन्हें एक गिरोह की प्रमुख बनने के लिए प्रेरित करती हैं। फूलन देवी की जिंदगी पर बनी ‘बैंडिट क्वीन’ में एक सीन ऐसा है जिसमें फिल्म की मुख्य भूमिका में अभिनेत्री सीमा विश्वास एक कुएं के पास कपड़े उतार कर जाती है। यह सीन सीमा ने नहीं, बल्कि उनकी डुप्लीकेट ने किया है।

खतरनाक स्टंट वाले सीन के साथ ही इंटीमेट सीन भी चर्चित रहे। लेस्बियन रिश्तों को उजागर और आम जनता के बीच चर्चा में लाने वाली पहली हिंदी फिल्म ‘फायर’ है। दीपा मेहता निर्देशित इस फिल्म में दो महिलाएं, सीता और राधा के पति अपनी पत्नियों के बजाय ब्रह्मचर्य और प्रेमिका को चुनते हैं। यह उन्हें संकीर्ण विचारधारा वाले समाज में अंतरंग, भावुक संबंध की तलाश में एक-दूसरे की ओर ले आता है। इसकी मुख्य भूमिका में शबाना आजमी और नंदिता दास हैं। दोनों के बीच कई बोल्ड सीन थे। कहा जाता है कि इस फिल्म में नंदिता का इंटीमेट सीन था उसे उनकी डुप्लीकेट यानी कि बॉडी डबल ने फिल्माया था। फिल्म के एक लिप लॉक सीन ने नंदिता दास को रातों-रात चर्चा में ला दिया था। इसके लिए उन्हें और फिल्म को राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिले।

सितंबर 2002 में आई शशिलाल के नायर निर्देशित फिल्म ‘एक छोटी-सी लव स्टोरी’। फिल्म क्रिजीस्तोफ किओव्सकव की ए शॉर्ट फिल्म ‘अबाउट लव’ हिंदी रीमेक है। फिल्म की कहानी में एक 15 साल का लड़का 26 साल की लड़की के प्यार में पड़ जाता है। लड़की उसे ऐसा सबक सिखाती है जो वह जिंदगी भर नहीं भूल पाता। इसने भी बॉक्स ऑफिस पर खूब प्रतिक्रिया हासिल की और सुपरहिट हुई। इसकी मुख्य भूमिका में रहीं मनीषा कोइराला। इसके एक हॉट सीन में बॉडी डबल का सहारा लिया गया, लेकिन फिल्म देखने से लगता नहीं है कि बॉडी डबल का सहारा लिया गया है।

अक्टूबर 2010 में आई स्नेक वुमन यानी मल्लिका शेरावत अभिनीत फिल्म ‘हिस्स’। इसको लेकर कहा जाता है कि इस फिल्म के कुछ बोल्ड सीन में मल्लिका की बॉडी डबल यानी कि हमशक्ल ने किए थे। इसके निर्देशक हैं जेनिफर लिंच। इस फिल्म की कहानी में एक आदमी को मस्तिष्क का कैंसर होता है। उसे कहा जाता है अगर वज ‘नागमणि’ पर अपने हाथ को रखेगा तो वह अमर हो जाएगा। लेकिन वह ‘नागमणि’ प्राप्त करने की उम्मीद से एक पुरुष नाग को पकड़ता है।

कहा जाता है कि सच्चा प्यार करने वाला कभी भी किसी भी हद तक जा सकता है। ऐसी ही कहानी पर आधारित 2011 में आई प्रियंका चोपड़ा अभिनीत फिल्म ‘सात खून माफ’। इसकी मुख्य भूमिका में प्रियंका चोपड़ा यानी प्यार की भूखी सुसैना अपना प्यार पाने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है। बस, उसे सही आदमी की तलाश है। वह कई बार शादी करती है, क्योंकि उसका प्रत्येक पति रहस्यमय तरीके से मर जाता है। इस फिल्म में प्रियंका ने सात किरदार निभाए थे। इस फिल्म में एक सीन है जिसमें प्रियंका टॉपलेस हुई थी और परदे पर उनकी पीठ दिखाई दे रही थी। यह सीन प्रियंका ने खुद नहीं, बल्कि उनकी डुप्लीकेट यानी बॉडी डबल ने किया था।

इस कड़ी में पाकिस्तान से बॉलीवुड में अभिनय करने आए अभिनेता-सिंगर अली जफर की एक भी फिल्म में आपको उनका इंटीमेट सीन देखने को नहीं मिलेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि अली फिल्म करने से पहले ही यह कॉन्ट्रैक्ट साइन कर लेते हैं कि वे कोई किसिंग सीन नहीं देंगे। इसे उन्होंने ‘नो किसिंग’ अनुबंध नाम दिया है। इसीलिए फिल्म ‘लंदन पैरिस न्यूयार्क’ में जब अभिनेत्री अदिती राव हैदरी के साथ एक हॉट किस सीन करने की नौबत आई तो उनके बॉडी डबल को बीच में लाना पड़ा।

‘जिस्म-2’ से बॉलीवुड में कदम रखने वाली सनी लियोनी खुद एक से बढ़कर एक बोल्ड सीन करती हैं। लेकिन ‘एक पहेली लीला’ में सनी ने कई बोल्ड सीन किए जिसमें बॉडी डबल का इस्तेमाल किया गया था। इसमें सनी को एक बोल्ड सीन अभिनेता मोहित अहलावत के साथ करना था जो उन्होंने अहलावत के बजाए अपने पति डेनिल के साथ किया। अप्रैल 2015 में आई इस फिल्म के निर्देशक हैं बॉबी खान। इसकी कहानी में नायक करन को पता चलता है कि वह श्रवण का पुनर्जन्म है, जिसे भैरव कलाकार ने 300 साल पहले मारा था। वह इसके पीछे के कारण का पता लगाने के लिए अपने अतीत में यात्रा करता है।

You may also like