[gtranslate]
entertainment

यंग अवतार में अमिताभ

हाल ही में रिलीज हुआ फिल्म ‘कल्कि 2898 एडी’ के ट्रेलर में सदी के महानायक अमिताभ बच्चन यंग अवतार में नजर आ रहे हैं। जिसे लेकर सोशल मीडिया में बहस छिड़ गई है कि भला ऐसे कैसे हो सकता है। कोई उनके इस अवताार को डबल बाॅडी बोल रहा है तो कोई जवानी वाले अमिताभ की झलक बता रहा है। लेकिन यह फिल्म ऐसी नहीं है जिसमें उन्हें फ्लैश बैक के मााध्यम से यंग दिखाया गया हो। बहरहाल अब देखना यह होगा कि इस नई तकनीक ‘डिजिटल डी – एजिल’ से बनी फिल्म को लोग कितना पसंद करते हैं

 

अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘कल्कि 2898 एडी’ का ट्रेलर रिलीज हुआ है। ट्रेलर में 81 साल के अमिताभ को यंग अवतार में दिखाया गया है जिसको देखकर दर्शक भी हैरान हैं कि ये इतने उम्रदराज अभिनेता बिना बाॅडी डबल के अपनी वर्तमान आयु से आधी उम्र के कैसे हो गए। आइए जानते हैं इस टेक्नोलाॅजी के बारे में।

नाग अश्विन के निर्देशन में बनी फिल्म ‘कल्कि 2898 एडी’ का ट्रेलर जब से रिलीज हुआ है तब से यह फिल्म सुर्खियों में बनी हुई है। फिल्म में सुपर स्टार अमिताभ बच्चन के साथ प्रभाष, कमल हसन, दीपिकापादुकोण जैसे सितारे नजर आएंगे। अमिताभ इस फिल्म में अश्वथामा का किरदार निभा रहे हैं और वीडियो के हिसाब से अपनी रियल उम्र में दखाई दे रहे हैं। लेकिन जैसे ही फिल्म फ्लैशबैक में जाती है वो अपने जवानी वाले दिनों में आ जाते हैं जिसको देखकर दर्शक भी हैरान रह जाते हैं क्योंकि उनके इस किरदार की उम्र 40 से ज्यादा भी नहीं लग रही है। अमिताभ अपने इस किरदार में हूबहू वैसे ही लग रहे हैं जैसे वे अपनी पुरानी फिल्मों में लगते हैं। उनके इस अवतार को देखकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी हुई है। कोई उनके इस किरदार को डबल बाॅडी बोल रहा है तो कोई अमिताभ के जवानी वाले किरदार में अभिषेक बच्चन की झलक दिखाई दे रही है। लेकिन कल्कि ऐसी मूवी नहीं है जिसमें अभिनेता को फ्लैश बैक में यंग दिखाया गया हो।

इससे पहले रजनीकांत भी कई फिल्मों में अपनी रियल उम्र से आधी उम्र में नजर आ चुके हैं। अभी हाल ही में रिलीज हुई उनकी फिल्म ‘जेलर’ जिसमें वे फ्लैश बैक के सीन में जवान नजर आ रहे हैं। उनके इस लुक को देखकर दर्शक जितने खुश हुए उतने हैरान भी हुए। इसमें रजनीकांत वैसे ही नजर आ रहे हैं जैसे वो अपनी जवानी के दिनों में दिखते थे। हालांकि रजनीकांत के लिए ये कोई नई बात नहीं है। उनकी फिल्मों में ये काम पहले उनके मेकअप, बिग और हेयर स्टाइल बदलकर किया जा रहा था लेकिन फिल्म ‘जेलर’ में ऐसा
बिल्कुल भी नहीं हुआ है ये सब डिजिटल डी – एजिंग का कमाल है।

डिजिटल डी – एजिंग

डी एजिंग एक दृश्य प्रभाव तकनीक है जिसका उपयोग किसी अभिनेता या अभिनेत्री को युवा दिखाने के लिए किया जाता है। एजिंग का मतलब होता है उम्र बढ़ने की प्रक्रिया और इसका उल्टा डी – एजिंग उम्र घटने की प्रक्रिया। इस तकनीक के माध्यम से किसी अभिनेता की पुरानी या जवानी वाले दिनों की वीडियो या इमेज को निकाला जाता है। अब इस इमेज को एडवांस साॅफ्टवेयर की मदद से लाइट के रिफ्लेक्सन, एंगल और सेड्स के जरिए पूरा डाटा बनाया जाता है फिर इस डाटा का एक आर्टिफिशियल इमेज तैयार किया जाता है जो अभिनेता के वर्तमान दिनों की सूरत से मिलान करता है। फिर इसी कम्प्यूटर जेनरेट इमेज के जरिए टचअप दिया जाता है और यंग बनाया जाता है। फिर अभिनेता के रियल भाव जोड़े जाते हैं। अक्सर आपने देखा होगा जब किसी भी फिल्म के फ्लैश बैक सीन चलते हैं तो अभिनेता के चेहरे पर छोटे-छोटे डाॅट्स दिखाई देते हैं। ये डाॅट्स सेंसर होते हैं जिनके जरिए रियल अभिनेता के भाव लिए जाते हैं और उन्हें कम्प्यूटर जेनरेट इमेज के साथ मिलान किया जाता है। इस तरह उस अभिनेता का यंग वर्जन तैयार हो जाता है। इस तकनीक का उपयोग सिर्फ डी – एजिंग के लिए किया जाता है। किसी बूढ़े किरदार के लिए नहीं। ऐसा इसलिए कि मेकअप के इस्तेमाल से बूढ़ा दिखाना ज्यादा आसान है, मगर यंग दिखना थोड़ा मुश्किल है। क्योंकि यंग बनने के लिए सिर्फ चेहरे की स्कीन से झुर्रियां ही नहीं हटानी होती हैं, बल्कि चेहरे के फीचर्स में भी थोड़ा बदलाव आ जाता है। इसलिए यंग दिखने के लिए सिनेमा जगत में डिजिटल डी – एजिंग बेहतर तकनीक है।

डिजिटल डी – एजिंग का इस्तेमाल सबसे पहले 2011 में आई फिल्म ‘रावण’ में शाहरूख खान के ऊपर इस्तेमाल किया गया। इस फिल्म में शाहरूख खान एक वैज्ञानिक का किरदार निभा रहे थे जिनकी लैब में आग लगने से मृत्यु हो जाती है। फिर उनका बेटा उनके बनाए हुए गेमिंग ऐप से उनका किरदार ‘जीवन’ की उत्पत्ति करता है जिसकी हूबहू सूरत शाहरूख की जवानी वाले दिनों की होती है। यह सब डी – एजिंग की तकनीक से किया जाता है। कन्नड़ सिनेमा के सुपर स्टार शिवा राजकुमार को फिल्म ‘घोस्ट’ में इस तकनीक के जरिए जवान दिखाया गया था। अब रजनीकांत की आने वाली फिल्म ‘कुली’ में भी इस तकनीक का उपयोग करके जवान दिखाया गया है।

फिल्म मेकर्स इस तकनीक से अभिनेताओं का किरदार शूट कर रहे हैं और खुलकर इसका प्रचार कर रहे हैं जिसका आने वाले दिनों में इस तकनीक का भरपूर फायदा दर्शकों को भी मिलेगा और वो अपने पसंदीदा अभिनेता को यंग अवतार में देख सकेंगे। बहरहाल अब देखना यह होगा कि इस नई तकनीक से बनी फिल्म ‘कल्कि 2898 एडी’ में अमिताभ का डिजिटल डी – एजिंग वाले अवतार को कितना पसंद करते हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD