[gtranslate]
entertainment

अश्लीलता परोसने वाले ओटीटी पर चाबुक

पूरी दुनिया जब कोरोना महामारी के दौर से गुजर रही थी, लोग एक-दूसरे से नहीं मिल पा रहे थे तब मनोरंजन का एक मात्र साधन इंटरनेट और ओटीटी प्लेफार्म थे। तभी से सिनेमा प्रेमी सिनेमाघरों से दूरी बनाते गए और ओटीटी से जुड़ गए। अमेरिका के बाद भारत ओटीटी प्लेटफार्म का सबसे बड़ा बाजार है। भारत में नेटफ्लिक्स’, ‘अमेजन’, ‘हाॅट स्टार’ सहित दस ओटीटी प्लेटफार्म ज्यादा हिट हैं जिनके यूजर्स की संख्या लाखों में है। ये ऐसे प्लेटफार्म हैं जो लोगों को ओरिजनल कंटेंट उपलब्ध कराते हैं लेकिन कुछ ऐसे ओटीटी प्लेटफार्म भी हैं जहां पर अश्लील वेबसीरीज ही रिलीज होती हैं और इनके सब्सक्राइबरों में तेजी से उछाल आया है। मौजूदा समय में 57 रिजस्टर्ड ओटीटी प्लेटफाम्र्स हैं। जबकि असंख्य ऐसे ओटीटी प्लेटफार्म हैं जिन्होंने अभी तक पंजीकरण नहीं कराया है। केंद्रीय एवं सूचना प्रसारण मंत्रालय द्वारा पिछले माह ऐसे कई ओटीटी प्लेटफार्म को प्रतिबंधित कर दिया है जो समाज में अश्लीलता फैलाने का काम कर रहे थे

 

केंद्रीय एवं सूचना प्रसारण मंत्रालय द्वारा पिछले माह कई ओटीटी प्लेटफार्म पर प्रतिबंध लगाया गया है। बताया जा रहा है कि ये ओटीटी प्लेटफार्म समाज में अश्लीलता फैलाने का काम कर रहे थे जिसमें 18 ओटीटी प्लेटफार्म, 19 वेबसाइट, 10 ऐप्स और 57 सोशल मीडिया हैंडल शामिल हैं। मंत्रालय द्वारा इन प्लेटफाम्र्स पर मौजूद कई वेबसीरीज को परखा गया और प्रथम दृष्टया अश्लीलता के करीब पाया गया था।

मौजूदा समय 57 रिजस्टर्ड ओटीटी प्लेटफार्म्स  हैं। जबकि बड़े पैमाने पर ऐसे हैं, जिन्होंने अभी तक पंजीकरण ही नहीं कराया है। अमेरिका के बाद भारत ओटीटी प्लेटफार्म को देखे जाने वाला सबसे बड़ा देश है। भारत में नेटफ्लिक्स, अमेजन, हाॅट स्टार सहित दस ओटीटी प्लेटफार्म ज्यादा हिट हैं जिनके यूजर्स की संख्या काफी है। ये ऐसे प्लेटफार्म हैं जो लोगों को ओरिजनल कंटेट उपलब्ध कराते हैं लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जहां पर अश्लील वेबसीरीज ही रिलीज होती हैं और इनके सब्सक्राइबरों में तेजी से उछाल आया है। आज हम ऐसे ही ओटीटी प्लेटफार्म के बारे में चर्चा करेंगे जिनमें ज्यादा अश्लीलता दिखाई जाती है।

प्राइम फ्लिक्स: इस ओटीटी प्लेटफार्म को 2019 में लाॅन्च किया गया था। तीन दशक से फिल्म इंडस्ट्री में सक्रिय सुशील देश पांडे इस ऐप के मालिक हैं। सुशील देश पांडे को मशहूर टीवी सीरीयल ‘शक्तिमान’ की एडिटिंग और ‘द ग्रेट मराठा’ के मार्ग दर्शन के लिए जाना जाता है। प्राइम फ्लिक्स को जब लाॅन्च किया गया था तब ऐसी उम्मीद थी कि इसमें बेहतर कंटेंट से लोगों का मनोरंजन किया जाएगाा, लेकिन बहुत जल्द ही ये अपना रास्ता भटक गया और अश्लील कंटेंट दर्शकों को परोसने लगा। ‘कामसूत्र’, ‘खुजाते रहें’, ‘देसी रोमियो’ और ‘कोकून’ जैसी वेबसीरीज इस ऐप पर उपलब्ध हैं जिनमें अश्लीलता की भरमार है।

 

कुकू ऐप: इस ऐप को वर्ष 2018 में लाॅन्च किया गया था। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं। अब तक पचास लाख ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है। इसका मासिक सब्सक्रिप्सन शुल्क 90 रुपए और वार्षिक 198 रुपए है। इस ऐप पर ‘हमारा चमत्कार’, ‘तृष्णा’, ‘आओ करें गुटर गू’, ‘बेबी सीटर’, ‘शी मेल’, ‘वाइफ फाॅर नाइट’, ‘मेरी बीवी की सुहागरात’ जैसी वेबसीरीज उपलब्ध है।

किंडी बाॅक्स नाईट: यह एक ऐसा ऐप है जो वीडियो आन डिमांड सर्विस उपलब्ध कराता है। इस ऐप की शुरुआत वर्ष 2018 में हुई थी। इस ओटोटी प्लेटफार्म की फेमस सीरीज ‘काया की माया’, ‘रेड लाइट’, ‘वासना’, ‘साधु भाई’, ‘इट हैपेन’ और ‘वर्जिनिटी सागा’ जैसी रेंट पर फिल्में देख सकते हैं। इसके अलावा आप रजिस्टर और लाॅग इन करके कुछ फ्री कंटेंट भी देख सकते हैं।

उल्लू ऐप: फिल्म प्रोड्यूसर वीभू अग्रवाल ने इसे 2018 में लाॅन्च किया था। इस ऐप पर अश्लील कंटेंट की भरमार है और ये ऐप हिंदी-इंग्लिश, भोजपुरी-बंगाली सहित छह अन्य भाषाओं में शोज दिखाता है। कोरोना महामारी के बाद उल्लू ऐप ने एमएक्स प्लेयर से लोगों को बोल्ड कंटेंट परोसने शुरू कर दिए थे। कंपनी के सीईओ वीभू अग्रवाल पर एक माॅडल सागरिका सोना सुमन ने न्यूड क्लिप मांगने का आरोप लगाया था। माॅडल का कहना था कि उल्लू डिजिटल प्राइवेट लिमिटेड एक हार्ड कोर पोर्न दिखाने वाला ऐप चला रहा है। इस ओटोटी प्लेटफार्म पर आप ‘कविता भाभी’, ‘देसी किस्से’, ‘सिसकियां’, ‘जाने अनजाने’, ‘मस्तराम’ और ‘रीति-रिवाज’ जैसी फिल्में देख सकते हैं।

आल्ट बालाजी: इसकी शुरुआत एकता कपूर ने की थी। इस ऐप के पांच करोड़ सब्सक्राइबर हैं। इस ऐप ने ही सबसे पहले अश्लीलता वाले कंटेंट को परोसने का काम किया था। इस ऐप पर पहली अश्लील वेबसीरीज ‘फोर प्ले’ को लाखों लोगों ने देखा था जिसके बाद इस ऐप पर वेबसीरीज ‘गंदी बात’ को स्ट्रीम किया गया जिसने अश्लीलता की सारी हदें पार कर दी थी। जिसके बाद इस ओटोटी प्लेटफार्म पर लगातार अश्लील सीरीज स्ट्रीम की जा रही हैं। ‘ट्रीपल एक्स’, ‘क्राइम एंड कनेक्शन’, ‘लव, सेक्स और धोखा’, ‘रागिनी एमएमएस’ जैसी हिट वेबसीरीज इस ऐप पर देख सकते हैं।

इसके अलावा कई ऐसे ऐप और डिजिटल प्लेटफार्म हैं जिन पर भारत सरकार ने पिछले माह रोक लगा दी गई है। उसमें 18 ओटीटी प्लेटफार्म, 19 वेबसाइट, 10 ऐप्स और 57 सोशल मीडिया अकाउंट्स शामिल है ंजो खुलेआम समाज में अश्लीलता फैलाने का काम कर रहे थे। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से एक बयान जारी करके कहा गया कि इन प्लेटफार्मों पर होस्ट किए जाने वाले कंटेंट अश्लील और महिलाओं को अपमानजनक तरीके से दिखाया जा रहा था। इसमें नग्नता और यौन कार्यों को खुलेआम दिखाया जा रहा था जो छात्र और शिक्षकों के रिश्ते को दागदार कर रहा था। इन ओटीटी प्लेटफार्म को इंफाॅर्मेशन टेक्नोलाॅजी एक्ट के सेक्शन 67 और 67ए के भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की सेक्शन 292 और महिलाओं के अश्लील प्रतिनिधित्व (निषेध) अधिनियम, 1986 की धारा 4 का उल्लंघन करने के लिए प्रतिबंधित किया जा रहा हैं।

इन ऐप्स पर लगा प्रतिबंध

ड्रीम्स फिल्म्स, वूवी, येस्मा, अनकट अड्डा, ट्राई फ्लिक्स, एक्स प्राइम, नियोन एक्स वीआईपी, मूडएक्स, बेशम्र्स, हंटर्स, रैबिट, एक्सट्रामूड, न्यूफ्लिक्स, मोजफ्लिक्स, हाॅट शाॅट्स वीआईपी, फुगी, चिकूफिलिलक्स, प्राइम प्ले इत्यादि।

You may also like

MERA DDDD DDD DD