[gtranslate]
Country

राज्यसभा चुनाव का बजा बिगुल, 8 राज्यों में 19 सीटों के लिए वोटिंग शुरू

राज्यसभा चुनाव का बजा बिगुल, 8 राज्यों में 19 सीटों के लिए वोटिंग शुरू

राज्यसभा चुनाव का बिगुल बजा तो सियासी पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया। विधायकों की जोड़ तोड़, पार्टियों के बीच शह और मात का खेल चलता रहा। आज 8 राज्यों में राज्यसभा की 19 सीटों के लिए वोटिंग शुरू हो गई है। कांग्रेस और बीजेपी के कई बड़े नेताओं के चेहरे दांव पर लगे हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विधानसभा पहुंच गए हैं।

साथ में डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी मौजूद हैं। गुजरात में बीजेपी के तीन विधायक केशरी सिंह सोलंकी, पुरुषोत्तम सोलंकी और शामूभूजी ठक्के प्रॉक्सी वोट का इस्तेमाल करेंगे। .राजस्थान में भी राज्यसभा की तीन सीटें हैं और 4 उम्मीदवार ताल ठोक रहे हैं। कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने ही दो-दो उम्मीदवार उतारे हैं। झारखंड में राज्यसभा की 2 सीटों पर 3 उम्मीदवारों की साख दांव पर है। जेएमएम, बीजेपी और कांग्रेस तीनों पार्टियों ने एक- एक उम्मीदवार मैदान में उतारा है। आंध्र प्रदेश में चार सीटे हैं और पांच उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं।

मध्य प्रदेश में राज्यसभा की 3 सीटों सीटों पर 4 प्रत्याशी मैदान में हैं। बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने ही दो-दो उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं, जबकि गुजरात की चार सीटों पर पांच उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। बीजेपी ने तीन उम्मीदवार उतारे है, जबकि कांग्रेस के दो नेता चुनाव लड़ रहे हैं। मध्यप्रदेश कांग्रेस की बैठक में पार्टी के करीब 6 विधायक शामिल नहीं होने से संकट और गहरा गया है। मध्य प्रदेश में तीन राज्यसभा सीटों पर चार प्रत्याशी के मैदान में है। बीजेपी से ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी तो कांग्रेस से दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बरैया की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है।

पूर्वोत्तर के मणिपुर, मेघालय और मिजोरम की एक-एक राज्यसभा सीटों पर भी आज चुनाव होना है। मध्य प्रदेश में कांग्रेस विधायकों की बगावत के बाद राज्यसभा के लिए दोनों सीटें जीतने का पार्टी का गणित गड़बड़ा गया है। बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की डिनर पार्टी में बसपा, सपा और निर्दलीयों की मौजदूगी ने बीजेपी की राह और आसान कर दी है।

गुजरात में कांग्रेस ने शक्ति सिंह गोहिल को प्रथम कैंडिडेट बनाकर उनकी राह आसान कर दी है, लेकिन भरत सिंह सोलंकी को अपनी सीट जीतने के लिए एड़ी चोटी की जोर लगाना होगा।
झारखंड में मुकाबला कांटे का है। विधायकों के आंकड़े के लिहाज से जेएमएम के शिबू सोरेन की एक सीट पक्की है और दूसरी सीट के लिए कांग्रेस और बीजेपी के बीच शह-मात का खेल जारी है। दोनों पार्टियां आजसू और अन्य विधायकों को साधने में जुटी हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD