Country

यूपी में बेटी छुपाओं, बेटी बचाओ 

अपराधियों के ताबडतोड इनकांउटर करने में रिकार्ड बनाने वाली और क्राइम का ग्राफ कम करने का दावा करने वाली उत्तर प्रदेश सरकार की अपराध के मामले में जमीनी हकीकत चौकाने वाली है। जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश में हर रोज 8 रेप और 30 अपहरण हो रहे हैं। वहीं महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध की रोज 100 से ज्यादा एफआईआर दर्ज हो रही हैं। यह आंकड़े बेहद चौंकाने वाले हैं, ऐसे में जब प्रदेश की योगी सरकार क्राइम कंट्रोल की बात कह रही है।
अलीगढ रेप केस के बाद पूरे देश में प्रदर्शन चल रहा है। उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों को लेकर चिंता व्यक्त की जा रही है। ऐसे में उत्तर प्रदेश के आंकड़े बेहद चौंकाने वाले हैं। 2018 के 1 जनवरी से 31मई तक और 2019 के 1 जनवरी से 31 मई तक के आंकड़ों की तुलना करें तो यहा क्राइम का ग्राफ तेजी से बढ़ा है।
उत्तर प्रदेश पुलिस थानों में दर्ज होने वाली रेप और रेप के प्रयास, दहेज हत्या, महिलाओं के अपहरण, शारीरिक शोषण, अश्लीलता, घरेलू हिंसा जैसी धाराओं में दर्ज होने वाली एफआईआर की लगातार समीक्षा कर रही है। आंकड़े देखें तो उत्तर प्रदेश में पिछले साल की तुलना में इस साल महज पाच महीने में 24 फीसदी अपराध बढ़ा है।
पुलिस भले ही कोई भी दावा कर रही हो लेकिन अलीगढ केस में यूपी पुलिस के सारे दावे खोखले नजर आते है।
लोगो का कहना है कि उत्तर प्रदेश में बदहाल कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने में प्रदेश की भाजपा सरकार नाकामयाब हो चुकी है । वर्तमान में प्रदेश की ख़राब कानून व्यवस्था को देखकर लगता है कि प्रदेश में अपराधियों को क़ानून का कोई भय ही नहीं रहा । पुलिस खुद असुरक्षित महसूस कर रही है।
स्थिति पिछली सरकार से भी ख़राब हो चुकी है ।जिसके कारनामों की दुहाई देकर वर्तमान सरकार बनी थी । उत्तर प्रदेश में पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक, 1जनवरी से 31मई तक इन तीन महीनों में डकैती के मामले 13.85 फीसदी, लूट 20.46 फीसदी, फिरौती के लिए किए गए अपहरण 44.44 फीसदी और बलात्कार के मामलों में 40.83 फीसदी का इजाफा हुआ है।
जबकि भाजपा ने अपराधमुक्त उत्तर प्रदेश जैसे नारे देकर जनता को लुभावने सपने दिखाए और उत्तर प्रदेश को अपराध से ग्रसित राज्य की तरह पेश किया । जिसके लिए खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंच से अपने भाषण के दौरान कहा कि बेटियां 7 बजे के बाद घर से बाहर निकलने में  डरती हैं। हमारी सरकार आएगी तो हम बेटियों को पूरी सुरक्षा देंगे। सरकार बनने के बाद से पीएम मोदी ने एक बार भी उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ लगातार बढ़ते जा रहे अपराधों के बारे में नहीं बोला है।

You may also like