[gtranslate]
Country

उद्धव ठाकरे की बढ़ी मुश्किलें,पार्टी सांसद ने सौंपा इस्तीफा

 महाराष्ट्र में शिव सेना ,एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। गठबंधन टूटने की आशंकाओं से संबंधित ख़बरें अक्सर मीडिया की सुर्खियों में रहती हैं। यह स्थिति मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे के लिए बहुत मुश्किलें खड़ी कर रही हैं। एक तरफ उन्हें गठबंधन दलों को संतुष्ट रखना है तो दूसरी तरफ उनके अपने ही आहत होकर पार्टी छोड़ रहे हैं।

महाराष्ट्र  से शिवसेना सांसद संजय जाधव ने सीएम उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। संजय जाधव ने आरोप लगाया है कि एनसीपी लगातार शिवसेना कार्यकर्ताओं को दर -किनार कर रही है।  इसे लेकर उन्होंने अपनी सीट के बारे में भी बताया है और उनका आरोप है कि पार्टी ने एनसीपी के सामने घुटने टेक दिए हैं । करीब दो महीने पहले पुणे के पांच शिवसेना पार्षदों के एनसीपी में शामिल होने के बाद राजनीति गर्मा गई थी! तब नाराज सीएम उद्धव ठाकरे ने डिप्टी सीएम अजीत पवार को एक संदेश दिया था। तब  उद्धव की ओर से कहा गया था कि एनसीपी में शामिल होने वाले सभी पार्षदों को वापस भेजा जाना चाहिए। यह संदेश मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी सचिव मिलिंद नार्वेकर ने डिप्टी सीएम अजीत पवार को फोन के जरिए दिया। ऐसी खबरें थीं कि उद्धव ठाकरे इस पूरे प्रकरण को लेकर बहुत नाराज हैं।  दरअसल, पुणे जिले के बारामती में परमार से शिवसेना के पांच पार्षद डिप्टी सीएम अजीत पवार की मौजूदगी में NCP में शामिल हुए।

इसके अलावा, सुशांत सिंह राजपूत के मामले में, अजीत पवार के बेटे पार्थ पवार लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे,जबकि शिवसेना द्वारा सीबीआई जांच को आवश्यक नहीं माना गया था! पार्थ को इसके लिए शरद पवार द्वारा सार्वजनिक रूप से फटकार भी लगाई गई थी।

कुछ महीने पहले, विधान परिषद की 12 रिक्त सीटों पर शिवसेना और कांग्रेस के बीच झगड़ा हुआ था। कांग्रेस चाहती थी कि तीनों दलों के बीच सभी सीटों का आवंटन बराबर हो। उस दौरान शिवसेना के खाते में 5 सीटें, एनसीपी में 4 सीटें और कांग्रेस के खाते में 3 सीटें जाने की चर्चा थी।  तब अशोक चव्हाण ने कहा था कि इस मुद्दे पर सीएम उद्धव ठाकरे से बात करके इस मुद्दे को सुलझाया जाएगा।

हालांकि, विवादों की रिपोर्ट के बीच, यह तीनों दलों के नेताओं द्वारा कहा गया है कि गठबंधन में सब कुछ ठीक है। लेकिन अब एक बार फिर संजय जाधव के इस्तीफे ने गठबंधन को लेकर राजनीति गरमा दी है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD