Country

गलगोटिया में दो दिवसीय मैकेनिक एनर्जी टेक्नोलॉजी संगोष्ठी का आयोजन 

 

आज गलगोटिया कॉलिज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टैकनोलॉजी ग्रेटर नोएडा के तत्वाधन में अब्दुल कलाम तकनीकि विश्वविद्यालय के सहयोग से मैकेनिकल और एनर्जी टैकनोलॉजी पर दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। संगोष्ठी में मुख्य अथिति के रूप में प्रो0 एस0 माजी, निदेशक ;डीआईटीई गर्वनमेंट आफॅ एनसीटी दिल्लीद्ध प्रो0 विक्रम कुमार पूर्व निदेशक ;सीएसआईआर-एनपीएल पूसा दिल्ली,द्ध और प्रो0 मोनिका दसकालू ;यनिवर्सिटी आफॅ बूचारैस्ट रोमानियाद्ध ने भाग लिया। संगोष्ठी का शुभारम्भ मुख्य अथिति और कॉलिज के निदेशक डॉ0 वी0 के0 द्विवेदी ने दीप प्रज्जवलित कर किया।
यांत्रिकी और ऊर्जा प्रौद्योगिकी पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के पहले दिन देश विदेश के प्रतिष्ठित विद्वानों ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग और ऊर्जा प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में वर्तमान विकास पर चर्चा करते हुए लगभग 100 शोध पत्र प्रस्तुत किये संगोष्ठी में वक्ताओं ने भविष्य की तकनिकी, ऊर्जा प्रौद्योगिकी नविनीकरण, भविष्य में ऊर्जा की चुनौतियां और प्रदूषण के समाधान पर विशेष बल देते हुए चर्चा की। प्रर्यावरण प्रदूषण पर अपने विचार रखते हुए एस0 माजी ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का मुख्य कारण वाहनो के द्वारा बढता पोल्यूशन है।
हरियाणा और पंजाब में धान की पराली से प्रो0 विक्रम ने अपशिष्ट हैंडलिंग समस्या के लिये अपनी चिंता व्यक्त की। जो कि भविष्य में फोटो वॉल्टिक कोशिकाओं और ली-आयन बैटरी के कारण होगी। संगोष्ठी का आयोजन मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग गलगोटिया कॉलिज के द्वारा किया गया। अथितियों का सम्मान कॉलिज निदेशक डॉ0 वी0 क0 द्विवेदी और डॉ0 असिम कादरी ने किया। कार्यक्रम की रूपा रेखा सम्बोधन प्रो0 पवन अरोडा ने की। कार्यक्रम के दौरान ध्रुव गलगोटिया मुख्य कार्यकारी अधिकारी गलगोटिया कॉलिज, विनोद कुमार रजिस्ट्रार गलगोटिया कॉलिज, प्रो0 आदि मौजूद रहे।

You may also like