[gtranslate]
Country

ट्वीटर से छंटनी के बाद खुद छंटने लगे कर्मचारी

ट्विटर का मालिकाना हक हासिल करने के बाद एलन मस्क ने 50 फीसदी कर्मचारियों को घर की राह दिखाई। जिसके बाद बचे हुए कर्मचारियों से मस्क ने दिन रात काम करने को कहा था। ऐसे हालातों में अब कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा देना शुरू कर दिया है।

 

खबर है एक ही दिन में सैकड़ों कर्मचारियों ने सामूहिक इस्तीफ़ा दे दिया है। अब कर्मचारियों के साथ – साथ यूज़र्स भी ट्विटर छोड़ने की बात कर रहे हैं। इसी बीच मस्क ने कम्पनी के कर्मचारियों को झटका देने वाला एक और एलान कर कंपनी के कई कार्यालयों को अस्थाई तौर पर बंद कर दिया है। ‘बीबीसी’के अनुसार अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि ट्विटर ने यह कदम क्यों उठाया है । नए आदेश के बाद अब कंपनी का ऑफिस 21 नवंबर को खुलेंगे ।

 

काम करने के तरीके से तंग कर्मचारी

 

कंपनी के काम करने के तरीके से तंग आकर कर्मचारी ट्विटर से इस्तीफा दे रहे हैं। यह बात सामने आई है कि कर्मचारियों को लंबे समय तक कुशलता से काम नहीं करने पर नौकरी से इस्तीफा देने को कहा गया है। इससे कर्मचारियों में असंतोष व्याप्त है। ट्विटर ने कर्मचारियों से सोशल मीडिया या मीडिया के साथ कंपनी की गोपनीय जानकारी पर चर्चा करने से बचने और कंपनी के नियमों का पालन करने को कहा है।
पहले चरण में कंपनी के करीब साढ़े तीन हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकाला जा चुका है, लेकिन जब ट्विटर ने एक बार फिर से नौकरियों में कटौती की है। सीएनबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक दूसरे चरण में, लगभग 5 हजार 500 अनुबंध कर्मचारियों को बिना पूर्व सूचना के निकाल दिया गया था। जब मस्क ने ट्विटर खरीदा, तो उन्होंने सबसे पहले कंपनी के सीईओ पराग अग्रवाल को नौकरी से निकाला। तब सीएफओ नेड सहगल, नीति प्रमुख विजया गड्डे को भी बर्खास्त कर दिया गया था। इस बीच, कई भारतीयों की नौकरी चली गई है। ट्विटर ने भारत में करीब 250 कर्मचारियों की छंटनी की जा चुकी है।

 

यह भी पढ़ें : ब्लू टिक के अलावा अब सारे ट्विटर यूजर को देना पड़ सकता हैसब्सक्रिप्शन चार्ज 

You may also like

MERA DDDD DDD DD