[gtranslate]
Country

प्रभात फेरी को लेकर तनातनी, पुलिस प्रशासन की सूझबूझ से टला हंगामा

उत्तर प्रदेश के संभल में एक प्रभात फेरी के दौरान पुलिस प्रशासन ने तत्काल सूझबूझ और सतर्कता न दिखाई होती तो एक प्रभात फेरी के दौरान जिस तरह दो संप्रदायों से जुड़े लोग आमने-सामने होने लगे थे, और माहौल बिगड़ने की आशंकाएं पेदा हो रही थी, उससे कोई बड़ा विवाद या हंगामा हो सकता था। दरअसल, 9 जनवरी को हल्लू सराय में बहजोई रोड पर श्रीराम जन्मभूमि समर्पण निधि समिति का कार्यालय खोला गया था। 10 जनवरी को कमेटी की ओर से लोगों को जागरूक करने के लिए प्रभात फेरी का आयोजन किया गया। नगर के मोहल्ला कोट पूर्वी स्थित सरथल चैकी से इस प्रभात फेरी का शुभारंभ किया गया।

गाजे- बाजे के साथ रैली शुरू होकर डाकखाना रोड होते हुए बाजार में जानी थी। रैली पंजाबी मंदिर से आगे पहुंची तो वहां पर गली संकरी होने के कारण प्रभात फेरी में शामिल लोग तो उससे निकल गए, लेकिन गाड़ी नहीं निकल सकी। इस पर समिति कार्यकर्ता गाड़ी को आगे वाली दूसरी गली से निकालने लगे। साउंड सिस्टम लगी गाड़ी को आगे वाली सड़क से निकाला जा रहा था तभी दूसरे संप्रदाय के लोग वहां पर इक्ट्ठा हो गए। गाड़ी को उधर से निकलते हुए दूसरे संप्रदाय के लोगों ने देखा तो उन्होंने समझा कि प्रभात फेरी इस रास्ते से निकल रही है।

दूसरे संप्रदाय के लोग एकत्र हो गए और गाड़ी निकाले जाने का विरोध करने लगे। स्थिति तनावपूर्ण होने लगी तो पुलिस प्रशासन से जुड़े अधिकारियों ने दोनों पक्षों को समझाकर हंगामा टाल दिया। सुरक्षा की दृष्टि से अधिकारियों ने जिले के हयातनगर, नखासा, असमोली, बनियाठेर, रजपुरा समेत कई अन्य थानों की पुलिस को मौके पर बुला लिया। बाद में अधिकारियों ने प्रभात फेरी में शामिल लोगों को समझाया। इसी बीच गाड़ी भी आ गई और फेरी को आगे बढ़ाया गया। इस दौरान एडीएम केके अवस्थी, एएसपी आलोक कुमार जायसवाल, एसडीएम दीपेंद्र यादव, सीओ अरुण कुमार सिंह मौके पर मौजूद रहे।

You may also like

MERA DDDD DDD DD