[gtranslate]
Country

राज्यसभा में ट्रिपल तलाक बिल का पास होना मुश्किल

नई दिल्ली। ट्रिपल तलाक को लेकर पक्ष- विपक्ष में घमासान सी स्थिति दिखाई दे रही है। फिलहाल विपक्ष के रुख को देखते हुए लगता है कि राज्यसभा में इसका पास होना मुश्किल है। विपक्ष ट्रिपल तलाक बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने पर अड़ा हुआ है, वहीं सरकार ने उसकी यह मांग को खारिज कर दी है। केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने राज्यसभा में कहा, बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने का मतलब है कि विपक्ष इसे पास नहीं करना चाहता है, और इस पर राजनीति हो रही है।

ट्रिपल तलाक बिल पर राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आज़ाद ने कहा, “यह इतना अहम बिल है, जो करोड़ों लोगों की ज़िन्दगियों पर सकारात्मक या नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है, सो, इसे सेलेक्ट कमेटी के पास भेजे बिना यूं ही पारित नहीं किया जा सकता। इसी तरह तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने ने भी कहा, “सभी विपक्षी दलों ने सर्वसम्मति से फैसला किया है कि ट्रिपल तलाक बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजना होगा।

इससे पूर्व जम्मू एवं कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा, “ट्रिपल तलाक बिल लाकर वे (बीजेपी) हमारे घरों में घुस रहे हैं। इससे हमारा पारिवारिक जीवन बिगड़ेगा, और इसके अलावा आर्थिक रूप से महिलाओं तथा पुरुषों के लिए ज़्यादा समस्याएं सामने आएंगी। मैं खुद भी टूटी हुई शादी से गुज़री हूं, और मेरा मानना है कि महिलाओं को शादी टूट जाने के बाद आर्थिक रूप से सबसे बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ता है। जब हम मुस्लिमों के लिए आरक्षण की बात करते हैं, तब बीजेपी उसे धार्मिक आधार पर खारिज कर देती है, लेकिन जब इस तरह के कानून की बात आती है, वे संसद चले जाते हैं।”

You may also like

MERA DDDD DDD DD