Country Latest news

जेएनयू में फीस बढ़ोतरी के मुद्दे को लेकर आज संसद में होगी चर्चा 

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) में फीस बढ़ोतरी के मुद्दे को लेकर आज संसद में चर्चा हो सकती है। कल  छात्र संघ ने सोमवार (18 नवंबर) को फीस बढ़ोतरी के खिलाफ किया था मार्च और विरोध-प्रदर्शन। हालांकि इसमें प्रधानमंत्री और गृह मंत्री के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया था। 

जेएनयूएसयू ने कहा, ”ऐसे समय में जब देश में शुल्क वृद्धि बहुत अधिक पैमाने पर हो रही है, तो समग्र शिक्षा के लिए छात्र आगे आये है। हम संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन जेएनयू से संसद तक निकाले जाने वाले मार्च में शामिल होने के लिए सभी छात्रों को आमंत्रित करते हैं।”
सोमवार देर रात छात्र वापस जेएनयू लौट आए थे,लेकिन आज फिर उनका विचार सडकों पर उतरने का है और फिर संसद जाने का है। ऐसे में मंगलवार को एक बार फिर दिल्ली की सड़कें जाम हो सकती हैं।सोमवार को हज़ारों छात्र संसद भवन की तरफ जाने की कोशिश में थे, लेकिन उन्हें दिल्ली पुलिस के 1200 से ज़्यादा जवानों ने रोक दिया। छात्र-छात्राएं तत्काल 1700 रुपये मेंटेंनेंस चार्च खत्म करने की मांग कर रहे हैं, उनका कहना है कि पहले यह शून्य था और अब तकरीबन 2000 रुपये कर दिया गया है, जो छात्रों के साथ गलत हो रहा है। 
बढ़ाई गई हॉस्टल फीस समेत कई मुद्दों को लेकर विरोध प्रदर्शन के दौरान सोमवार को कई छात्र-छात्राएं घायल हुए हैं। 
आप ने जेएनयू के छात्रों पर पुलिस द्वारा लाठी चार्ज किए जाने का आरोप लगाया है। इसकी निंदा करते हुए पार्टी से राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने ट्वीट किया जेएनयू के छात्रों पर लाठी चार्ज करना, उनका सर फोड़ देना, लहूलुहान कर देना, क्या यही दिल्ली पुलिस की मानवता है? वकीलों ने पीटा था, तो वर्दी की इज्जत याद आ रही थी। क्या ऐसी घटनाओं से वर्दी दागदार नही होती? इससे पहले भी सिंह ने जेएनयू छात्रों का समर्थन करते हुए हॉस्टल की फीस वृद्धि को गलत बताया था।
 बहरहाल आज इस मुद्दे की गूंज पार्लियामेंट में सुनाई देगी। क्योंकि राज्यसभा में इस पर चर्चा के लिए सीपीआई द्वारा नोटिस दिया गया है। इस पर चर्चा की मांग की गयी है। 

You may also like