[gtranslate]
Country

पीड़ित छात्र के दोस्त ही निकले आरोपी

देशभर में बालयौन शोषण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। कड़े कानूनों के बावजूद भी सरकार और सुरक्षा व्यस्था के लिए इन्हें रोक पाना मुश्किल हो रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बीते दिनों दिल दहला देने वाला मामला सामने आया था । यहां दस साल के मासूम के साथ हैवानियत की सारी हदे पार कर दी गई थी । इस मासूम की वारदात के 13 दिनों बाद अब मौत हो गई है। हालांकि इसे अस्पताल में डॉक्टर के नगरानी में रखा गया था।

निर्भया जैसी हैवानियत को यमुनापुर के सीलमपुर इलाके में आरोपियों द्वारा अंजाम दिया गया। जिसने मानवता को शर्मसार कर दिया है। पुलिस के मुताबिक घटना को अंजाम देने वाले ये आरोपी भी नाबालिग हैं।

पुलिस पूछताछ में में पता चला कि  आरोपी पीड़ित छात्र के दोस्त ही हैं। जो उसके साथ स्कूल में पढ़ते हैं । पीड़ित छात्र सरकारी स्कूल का कक्षा पांचवी का छात्र है। तीनों आरोपियों में से एक आरोपी पीड़ित का दूर का भाई लगता है जो फरार चल रहा है। पुलिस द्वारा उसकी तलाश जारी है। वहीं जिन अन्य दो आरोपियों को पुलसि द्वारा हिरासत में लिया गया हैं उनकी उम्र 11 और 12 साल बताई जा रही हैं। इन दोनों आरोपियों को जेजे बोर्ड द्वारा बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। वहीं पीड़ित की तबियत अधिक खराब होने की वजह से उसे एलएनजेपी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती किया गया है।

आरोपियों पर पॉक्सो एक्ट समेत अन्य कईधाराएं

 

तीनों आरोपियों ने पीड़ित छात्र के साथ पहले कुकर्म किया उसके बाद डराने धमकाने के लिए उसके निजी अंग में रॉड डाल दी। इतना ही नहीं पीड़ित द्वारा इनका विरोध करने पर बच्चे को बुरी तरह ईंट से पीटा भी गया । आरोपियों द्वारा इस घटना के बारे में किसी को न बताने के लिए भी मजबूर किया गया और बुरा हस्र करने की धमकी दी गई। जिसके बाद पीड़ित छात्र ने इस घटना का जिक्र किसी के साथ नहीं किया । 22 सितम्बर को अचानक तबियत खराब होने पर उसे अस्पताल ले जाया गया। जिसके बाद इस घटना को उजागर किया गया और पुलिस को इसकी जानकारी दी गई। पुलसि के अनुसार पहले पीड़ित के परिजन बयान देने के लिए तैयार नहीं थे। लेकिन पीड़ित की माँ की एनजीओ द्वारा कॉउंसलिंग करवाने पर जल्द ही मामला दर्ज कराया गया । इसके बाद पुलिस द्वारा आरोपियों पर पॉक्सो एक्ट समेत अन्य कई धराए लगाई गई है।

इससे पहले पीड़ित छात्र की माँ ने महिला आयोग में शिकायत की थी। दिल्ली महिला आयोग की अध्य्क्ष स्वाति मालीवाल के मुताबिक पीड़ित की हालत गंभीर है। आयोग द्वारा पुलिस को नोटिस जारी कर अब तक की कार्यवाई की रिपोर्ट मांगी गई है। मामले के बारे में 28 तारीख तक जवाब देने के लिए कहा गया है।

 

यह भी पढ़ें : फिर सुर्खियों में लखीमपुर खीरी,रेप के बाद गला दबाकर पेड़ पर लटकाए शव

 

 

 

You may also like

MERA DDDD DDD DD