Country

सोनभद्र में नरसंहार,पीड़ित परिवार से मिली प्रियंका गांधी

प्रियंका गाँधी ने पीड़ितों से मिलने के बाद परिवार वालो को कांग्रेस पार्टी की ओर से १० लाख मुआवज़े का ऐलान किया है,साथ ही उन्होंने यह भी कहा की इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। इसके बाद उन्होंने अपना धरना समाप्त   कर दिया है।
गौरतलब हैं की यूपी के सोनभद्र जाने की जिद पर अड़ीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी  ने 24 घंटे के धरने के बाद चुनार गेस्ट हाउस के बाहर 2 पीड़ितों से मुलाकात की थी । गेस्ट हाउस के बाहर पीड़ितों ने बताया कि उन्हें यहां आने से रोका जा रहा था, वे कुल 15 लोग हैं जिसमें महिलाएं भी शामिल थी ।इसके बाद  प्रियंका ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘प्रशासन न हमें मिलने दे रहा है और पीड़ित परिवारों को भी यहां आने से रोक रहा है।’ इसी के साथ वह दोबारा धरने पर बैठ गई थी । इसके कुछ समय बाद ही प्रशासन ने  प्रियंका को पीड़ित परिवार के महिलाओ से मिलवाया| प्रियंका को देखते ही पीड़ित महिलाये उनसे गले मिलकर रोने लगी| वह एक भावुक पल हैं |


दूसरी ओर, कांग्रेस के कई बड़े नेता आरपीएन सिंह, राजीव शुक्ला, जितिन प्रसाद, मुकुल वासनिक, दीपेंद्र हुड्डा और राज बब्बर समेत कई कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने बनारस एयरपोर्ट पर रोका गया और फिर हिरासत में ले लिया गया है.  वह सब  मिर्जापुर के चुनार गेस्ट हाउस पहुंच रहे थे । प्रियंका के समर्थन में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश सिंह बघेल भी चुनार पहुंच रहे हैं।

 कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बाद तृणमूल कांग्रेस के सांसदों को भी यूपी सरकार ने सोनभद्र जाने से रोक दिया है. टीएमसी सांसदों को यूपी पुलिस ने बनारस एयरपोर्ट से बाहर आने की अनुमति नहीं दी. यूपी प्रशासन के इस रवैये से खफा टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन अपने साथियों के साथ बनारस एयरपोर्ट पर ही धरने पर बैठ गए. डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि एडीएम और एसपी ने हमें बताया कि हमें हिरासत में लिया जा रहा है क्योंकि यहां धारा 144 लागू है. लेकिन हमनें उन्हें कहा कि हम तीन लोग हैं और धारा 144 लागू होने की सूरत में पांच या पांच से  ज्यादा लोग अगर साथ जाएं तभी उसका उल्लंघन माना जाता है
दूसरी ओर बीजेपी ने प्रियंका के धरने को राजनीतिक ड्रामा करार दिया है। यूपी के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ‘श्रीमती वाड्रा को लगता है कि सोनभद्र में टूरिज्म चल रहा है। इसलिए वे घूमने जा रहे हैं। बीएचयू गईं पीड़ित परिवारों से मिलने किसी ने आपको रोका नहीं लेकिन यहां पर धारा 144 लगाया है और अगर आप शांति भंग करने जाएंगी तो कोई सरकार अनुमति नहीं देगी।’
कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने कहा कि प्रियंका गांधी को दो दिन से हिरासत में ले रखा है. भारतीय जनता पार्टी  ने दोषियों के साथ मिलकर साजिश रची है. सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी आदिवासियों की जमीन पर कब्जा करना चाहती है.

You may also like