[gtranslate]
Country

पिता का मन रखने के लिए बेटे ने की लकड़ी के पुतले शादी

पिता का मन रखने के लिए बेटे ने की लकड़ी के पुतले शादी

उत्तर प्रदेश में प्रयागराज से पिता-पुत्र के रिश्ते की मार्मिक खबर सामने आई। 90 साल के एक बुजुर्ग के 8 बेटों की गृहस्थी बस चुकी थी, लेकिन सबसे छोटा बेटा कुंवारा था। पिता की तमन्ना थी कि उनके जीवित रहते शादी हो जाए। पहले तो 32 वर्षीय बेटे ने इसका विरोध किया। बाद में मान गया। पिता का मन रखने के लिए बेटे ने लकड़ी के पुतले के साथ सभी रस्मों के निभाते हुई ब्याह रचाया। भोज का भी आयोजन किया गया।

मनकवार गांव के पूर्व प्रधान राजेश कुमार खन्ना, मंगला प्रसाद शादी के साक्षी बने। उन्होंने बताया कि बेटे ने पिता का मान रखने के लिए और अपने सिर से कुंवारापन दूर करने के लिए वैदिक पुरोहितों से सलाह के बाद ये कदम उठाया है। मंगलवार को हुई ये शादी क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गई।

आखिरकार पुरोहित को इस बारे में बताया गया। पुरोहित ने सलाह दी कि लकड़ी के पुतले से शादी हो सकती है। इस तरह पंचराज विवाहित कहलाएगा। पहले पंचराज ने इस फैसले का विरोध किया। लेकिन जब लगा कि इसी खुशी में पिता की अंतिम इच्छा छिपी है तो वह तैयार हो गया। शुभ मुहूर्त निकलवाया गया और मंगलवार को पूरे रस्म-ओ-रिवाज के साथ धूमधाम से पंचराज की पुतले से शादी कर दी गई। इस अवसर पर भोज भी आयोजित किया गया।

वहीं राज्य में बीते 24 घंटे में कोरोना के 516 नए मरीज सामने आए। इसके साथ अब कुल संक्रमितों की संख्या 14589 हो गई है। इनमें से 5259 एक्टिव केस का इलाज चल रहा है। 18 मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई। मरने वालों की संख्या 435 हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कोरोनावायरस की स्थितियों को लेकर बातचीत करेंगे।

You may also like

MERA DDDD DDD DD