[gtranslate]
Country

सिसोदिया के OSD घूस प्रकरण पर घिरी दिल्ली सरकार

सिसोदिया के OSD घूस प्रकरण पर घिरी दिल्ली सरकार

दिल्ली विधानसभा चुनाव से मात्र दो दिन पहले प्रदेश के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव को सीबीआई ने घूस लेने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। माधव सरकारी अधिकारी है और जीएसटी इंस्पेक्टर भी  है।  पिछले 5 साल से सिसोदिया के विशेष कर्तव्य अधिकारी (ओएसडी) रहे गोपाल कृष्ण माधव पर आरोप है कि वह जीएसटी के एक मामले में 10 लाख की घूस मांग रहे थे। जिसमें बाद में दो लाख का मामला तय हुआ।

भाजपा के नेता और बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने इस मामले पर मनीष सिसोदिया की घेराबंदी करते हुए कहा है कि आखिर बिना बॉस की जानकारी के ओएसडी घूस कैसे ले सकता है। मालवीय ने ट्वीट कर सिसोदिया पर निशाना साधते हुए कहा कि डिप्टी सीएम के आफिस में कोई ओएसडी अपने बाँस की जानकारी के बिना घूस नही ले सकता। पहले भी केजरीवाल और सिसोदिया पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे है। हैरत है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ किए गए आंदोलन से जन्मी पार्टी भ्रष्टाचार पर खत्म होगी।

दूसरी तरफ मनीष सिसोदिया ने इस मामले में ट्वीट जारी करते हुए कहा है कि मुझे पता चला है कि सीबीआई ने एक जीएसटी स्पेक्टर को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। यह अधिकारी मेरे ऑफिस में बतौर ओएसडी भी तैनात था। सीबीआई को उसे तुरंत से सख्त सजा दिलानी चाहिए। ऐसी कई भ्रष्टाचारी अधिकारी मैंने पिछले 5 साल में खुद पकड़े हैं।

हालांकि, जिस तरीके से विधानसभा चुनाव से मात्र दो दिन पहले यह मामला प्रकाश में आया है उससे इसको राजनीतिक रंग दिया जाना भी लग रहा है। इस गिरफ्तारी के टाइमिंग पर सवाल खडे हो रहे हैं। लेकिन इसका जवाब देते हुए खुद सिसोदिया कहते हैं कि कोई टाइमिंग का सवाल नहीं है। भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेन्स है। अच्छा हुआ कि वो पकडा गया। ऐसे में उसे सख्त सजा मिलनी चाहिए। अगर मुझे पता होता तो मैं खुद उसे पकड़वाता।

सूत्रों की माने तो ओएसडी प्रकरण में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की कोई भूमिका नजर नहीं आ रही है। हालांकि, मामले की जांच जारी है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि गोपाल कृष्ण माधव वर्ष 2005 से सिसोदिया के कार्यालय में तैनात है । लेकिन इस दौरान गोपाल कृष्ण माधव पर कभी भी कोई भ्रष्टाचार का मामला सामने नहीं आया।

You may also like

MERA DDDD DDD DD