Country

शरद पवार ने सुविधा के अनुसार बदले सुर

नई दिल्ली। राजनीति में नेता अपनी सुविधा या जरूरत के मुताबिक कैसे सुर बदलते हैं, इसका ताजा उदाहरण शरद पवार हैं। एक समय शरद ने सोनिया गांधी को विदेशी बताकर कांग्रेस छोड़ दी थी। राज करेगा हिंदुस्तानी का नारा उछालकर तब उन्होंने राष्ट्रवादी कांग्रेस की नींव रखी। लेकिन आज जब देश में विपक्षी दलों के गठबंधन की बात हो रही है, तो उन्हें अपने सुर बदलना ही सुविधाजनक लगा। आज के राजनीतिक हालात में शरद के सुर अब एकदम बदल गए हैं। उनका कहना है कि आज देश की गरीब जनता के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी काम कर रहे हैं, तो उनका अभिमान होना चाहिए। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक ही बात कहते हैं कि एक परिवार ने देश का नुकसान किया। जाहिर है कि वे अब सोनिया और राहुल के बचाव में भी उतर चुके हैं।
महाराष्ट्र के सतारा में एक रैली को संबोधित करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार ने देश के लिए पंडित नेहरू और स्वर्गीय इंदिरा गांधी के योगदान की याद दिलाई। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी जिन्होंने गरीबों के विकास के लिए सत्ता का उपयोग किया, उनकी हत्या हुई। इसके बावजूद उस परिवार ने कभी चिंता नही की। राजीव गांधी ने पूरे देश को आधुनिकता का विचार दिया। उनकी भी हत्या हुई। आज भी देश की गरीब जनता के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी काम कर रहे हैं। उनके काम को समझने के बजाए निरंतर हमले किये जा रहे हैं कि एक परिवार ने देश को नुकसान पहुंचाया है।

You may also like