Country

शिवाजी के वंशज भी हुए भगवामयी

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के पूर्व सांसद उदयनराजे भोसले बीजेपी में शामिल हो गए। दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की मौजूदगी में उदयनराजे भोसले ने बीजेपी की सदस्यता ले ली। भोसले ने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।

 उदयनराजे सतारा से एनसीपी के सांसद थे। पहले उन्होंने संसद की सदस्यता छोड़ी और फिर आज अमित शाह की मौजूदगी में बीजेपी में शामिल हो गए। उदयनराजे का बीजेपी में शामिल होना इसलिए अहम है क्योंकि ये शिवाजी के वंशज हैं और इसका सियासी फायदा बीजेपी को हो सकता है। दिल्ली में लगभग आधी रात को उन्होंने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा दी। उदयनराजे को खुद सीएम देवेंद्र फड़णवीस पुणे से दिल्ली लेकर आए। उदयनराजे एनसीपी के चार सांसदों में से एक थे। उदयनराजे के इस फैसले से महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव से पहले शरद पवार को बड़ा झटका लगा है।

एनसीपी से नाता तोड़ने से मात्र 48 घंटे पहले उदयनराजे ने एनसीपी चीफ शरद पवार से मुलाकात की थी। वहीं उदयनराजे भोसले के इस्तीफे के फैसले पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि एनसीपी एक बार फिर से सतारा लोकसभा सीट जीतेगी। एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने उदयनराजे पर तंज कसते हुए कहा कि ये तो वही बता सकते हैं कि वे बीजेपी में क्यों जा रहे हैं, लेकिन एनसीपी एक बार फिर से सतारा लोकसभा सीट जीतेगी। कुछ ही महीनों में महाराष्ट्र विधानसभा का चुनाव होना है।

You may also like