[gtranslate]
Country

आरएसएस की जलती यूनिफार्म पर ,बढ़ा बवाल

कांग्रेस पार्टी द्वारा शुरू की गई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ जारी है। इसी दौरान कांग्रेस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को लेकर एक ट्वीट किया है। जिसमें आरएसएस की यूनिफार्म (निक्कर) में आंग जलती हुई दिखाया गया है। फोटो शेयर करते हुए कांग्रेस ने कहा ”देश को नफरत के माहौल से मुक्त करने और आरएसएस-भाजपा द्वारा किए गए नुकसान की भरपाई को पूरा करने के लिए हम कदम आगे बढ़ा रहे हैं।” जिसके बाद इस ट्वीट पर विवाद शुरू हो गया है।

 

ट्वीट पर भड़के भाजपा नेता

 

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि कांग्रेस ने यह तस्वीर भाजपा और आरएसएस को प्रतिनिधित्व करते हुए लोगों को उकसाने के लिए यह ट्वीट किया है। इनकी भारत जोड़ो यात्रा ‘भारत जोड़ो आंदोलन’ नहीं ‘भारत तोड़ो आंदोलन’, ‘आग लगाओ आंदोलन’ है । यह पहली बार नहीं है जब कांग्रेस ने इस प्रकार की तस्वीर ट्वीट की हो। पात्रा ने यह सवाल भी पूछा की राहुल गांधी और उनके परिवार को आग से इतना प्यार क्यों है। पात्रा का कहना है कि कांग्रेस को इस ट्वीट को तुरंत डिलीट करना चाहिए।

इसी मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि ‘कांग्रेस और राहुल गांधी 7 जन्म लेंगे तब भी आरएसएस की बराबरी नहीं कर पाएंगे। आरएसएस का एक-एक स्वयंसेवक भारत माता की वैभव के लिए जीता है। आरएसएस भारत के संस्कार और संस्कृति का ध्वजवाहक है। कांग्रेस पार्टी के नेता जितना जलेंगे संघ उतना ही सांस्कृतिक फैलाव करेगा।’
पूर्व कांग्रेस नेता और वर्तमान में भाजपा के मंत्री जितिन प्रसाद ने ट्वीट कर कहा कि ‘राजनीतिक मतभेद स्वाभाविक और समझने योग्य हैं लेकिन राजनीतिक विरोधियों को जलाने के लिए क्या इस तरह की मानसिकता की आवश्यकता है? नकारात्मकता और नफरत की इस राजनीति की सभी को निंदा करनी चाहिए।’
वहीं बीजेपी के एक अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने ट्वीट कर लिखा है कि 1984 में कांग्रेस की आग ने दिल्ली को जला दिया। इसके बाद 2002 में गोधरा में 59 कारसेवकों को जिंदा जला दिया गया। उन्होंने फिर से हिंसा का आह्वान दिया है। कांग्रेस अब राजनीतिक दल नहीं रह गई है और राहुल गांधी सिर्फ भारत के खिलाफ लड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें : मदरसे में नहीं पढ़ना चाहता था बच्चा ,साथी की कर दी हत्या

 

 

You may also like

MERA DDDD DDD DD