[gtranslate]
Country Latest news

बिहार में बारिश और बाढ़ का कहर लगातार जारी

बिहार में भारी बारिश और बाढ़ का कहर जारी हैं। पिछले चार दिनों से लगातार रुक-रुक कर हो रही बारिश से कई जगहों पर जलभराव हो गया है जिसके कारण कई लोग अपने घर के छतो पर रहने के लिए मजबूर है तो कई लोग बेघर हो गए हैं। बारिश और बाढ़ के कारण राज्य के कई जिलों पटना समेत 15 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया हैं। आपदा प्रबंधन विभाग ने इसकी पुष्टि की है कि आपदा के इस दौर में राज्य के 29 लोगो की मौत हो गयी हैं जबकि कई लोग जख्मी हो गए है।
बाढ़ के बिगड़ते हालातो को देखते हुए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार से मदद मांगी है राज्य के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने केंद्र सरकार से भारतीय वायुसेना के हेलिकॉप्टरों की मांग की है साथ ही कोयला मंत्रालय को जलभराव से निजात पाने के लिए बड़े पंपों को भेजने का अनुरोध किया है ताकि निचले इलाकों के पानी को निकाला जा सके। वहीं, पटना के डीएम कुमार रवि ने जिले के सभी स्कूलों और कॉलेजों को 30 सितंबर और एक अक्टूबर को बंद रखने के आदेश दिए हैं। वही बाढ़ प्रभवित इलाको में राष्ट्रीय आपदा राहत बल (एनडीआरएफ) की 19 टीमों सहित भारतीय सेना के कुछ जवानो को भी तैनात किया गया है। टीमें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में अन्य एजेंसियों के साथ बचाव और निकासी अभियान चला रही हैं। एनडीआरएफ और भारतीय सेना के जवानों के ने बाढ़ वाले इलाकों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया और अब तक एनडीआरएफ और भारतीय सेना के जवानों ने दो लोगों की जान बचाई है और लगभग 4945 लोगों और 45-50 पशुओं को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हमारे हाथ में नहीं था। राज्य सूखे की स्थिति में था और अब बाढ़ आ गयी है। इन आपदाओं में हम पीड़ितों की हर संभव सहायता का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शनिवार से लगातार तेज बारिश हो रही है।  और अभी पता नहीं है कि बारिश कब तक रुकेगी मौसम विभाग भी सटीक अनुमान नहीं लगा पा रहा हैं। गंगा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है जिससे बाढ़ जैसे हालात के आसार लग रहे हैं। गंगा नदी के दोनों किनारे स्थित 12 जिलों में कुछ जगहों पर लोगो को परेशानियाँ हो रही है। बचाव के लिए उचित व्यवस्था कर ली गई है और प्रशासन मौके पर मौजूद है। हम लोगों की मदद के लिए सभी तरह के प्रयास कर रहे हैं तथा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना, पेयजल की व्यवस्था, दूध की उपलब्धता आदि सुनिश्चित की जा रही है उनके लिए राहत शिविरों का इंतजाम किया गया है। उन्होंने कहा कि इन हालात में लोगों को हौसला बुलंद रखना पड़ेगा। प्रशासन हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के लिये तत्पर है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD