[gtranslate]
Country

राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर सरकार को कोसा  

सोमवार 14 सितम्बर से संसद का मानसून सत्र शुरू हो चुका है। हालांकि इस सत्र में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और वायनाड के सांसद राहुल गांधी नहीं पहुंच सके। सोनिया गांधी अपने हैल्थ चेकअप के लिए विदेश गई हुई हैं और राहुल गांधी भी उनके साथ गए हुए हैं। विदेश में रहते हुए ही राहुल सरकार को घेरने को कोई मौका नहीं चूक रहे हैं। लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर भी उन्होंने सरकार पर निशाना साधा है।
दरसअल, संसद में जब सरकार से पूछा गया कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मजदूरों की मौत हुई, तो जवाब मिला कि श्रम मंत्रालय के पास मजदूरों की आधिकारिक मौत का कोई आंकड़ा नहीं है। इसी बयान को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर शायरी के अंदाज़ में तंज कसा है। राहुल ने ट्वीट करके कहा कि “तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पे असर ना हुई, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे ख़बर ना हुई।”

राहुल विदेश में अपनी मां के हैल्थ चेकअप के लिए उनके साथ गए हुए हैं। वहीं से उन्होंने ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। जब पूरे देश में लॉक डाउन हुआ था तब अपने राज्यों से बाहर काम करने वाले प्रवासी मजदूरों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। घर वापसी के दौरान कई मजदूरों की रास्ते में ही मौत हो गई थी। उनके रोजगार छूट गए थे और उनके सामने सबसे बड़ी समस्या रोजगार थी।
वहीं सरकार की तरफ से यह जवाब जरूर दिया गया कि लॉकडाउन के दौरान उन्होंने 80 करोड लोगों तक अतिरिक्त राशन मुहैया करवाया था। आज मानसून सत्र का दूसरा दिन है। आज संसद में भारत चीन सीमा विवाद पर विपक्ष सरकार को घेर सकता है। देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज भारत चीन सीमा विवाद पर अपनी बात रख सकते हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD