[gtranslate]
Country

पीके पर फिदा पंजाब कांग्रेस, जोड़ा जा सकता है चुनावी अभियान में

“राहुल गांधी भाजपा की पराजय का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन यह उनकी गलतफहमी है और भाजपा आगे भी जीतती रहेगी। ”

यह विवादास्पद बयान दिया था पिछले दिनों पीके यानि प्रशांत किशोर ने। देश के प्रमुख राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर को फिलहाल पंजाब में फिर से जोड़ने की कवायद शुरू हो गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ ही प्रभारी हरीश चौधरी और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने एक मीटिंग में इसके संकेत दिए हैं। पीके को मिशन 2022 के चुनावी अभियान में जोड़ा जा सकता है। ऐसे में माना जा रहा है पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में पीके फिर से कांग्रेस के लिए सक्रिय हाे सकते हैं।

प्रशांत कुमार एक रणनीतिकार के तौर पर अपने आपको स्थापित कर चुके हैं । पूर्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर नितीश कुमार तक रहे बड़े से बड़े नेता के साथ राजनीतिक रणनीति बनाने के लिए जाने जाते हैं। नेता वैसे तो उन्हें सलाहकार के तौर पर लगते हैं लेकिन बाद में वह उन पर हावी होने लगते हैं। शायद यही वजह रही कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन्हें हटा दिया था।

पंजाब के जब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह थे तब वह मुख्यमंत्री सलाहकार के तौर पर काम कर रहे थे। बताया जाता है कि 2017 में पंजाब में कांग्रेस आने और कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री बनाने में प्रशांत कुमार की रणनीति को महत्वपूर्ण माना गया था। लेकिन बाद में प्रशांत किशोर ने तत्‍कालीन कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के मुख्‍य सलाहकार का पद छोड़ दिया था और पंजाब में कांग्रेस के लिए चुनावी रणनीतिकार के रूप में काम करने से मना कर दिया था।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जब अपना पद छोड़ा तो इसके बाद प्रशांत कुमार के द्वारा कहा जाने लगा था कि पंजाब में एक दलित मुख्यमंत्री होना चाहिए। उनकी इसी रणनीति पर ही बाद पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया। कैप्टन अमरिंदर सिंह के कांग्रेस छोड़ने के बाद एक बार फिर प्रशांत कुमार को पंजाब कांग्रेस में जोड़ने की कवायद शुरू हो गई है। प्रदेश प्रभारी हरीश चौधरी ने प्रशांत किशोर को चुनाव अभियान मैं जोड़ने की सलाह दी है। जिसको मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने स्वीकार किया है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD