Country

गांधीजी को श्रद्धांजलि देने गए प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

गांधीजी को श्रद्धांजलि देने गए प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिल्ली गेट के पास से आज शाम सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। खबरों के मुताबिक, प्रशांत भूषण अपने सहयोगियों के साथ शांतिपूर्ण तरीके से मानव श्रृंखला बनाकर तिरंगा लेकर ‘जन गण मन’ गाने गाते हुए आगे बढ़ रहे थे। गुरुवार की शाम को 5 बजकर 17 मिनट (जिस वक्त गांधीजी को गोली मारी गई थी) ‘जन गण मन’ गाना शुरू हुआ। जैसे ही राष्ट्र गान समाप्त हुआ, दिल्ली पुलिस ने उन सभी को गिरफ्तार कर लिया।

दिल्ली गेट के निकट जब प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव अपने कार्यकर्ताओं के साथ आगे बढ़ने का प्रयास कर रहे थे, तब दिल्ली पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए उन्हें रोकने का प्रयास किया। इस बीच प्रशांत भूषण और पुलिस अधिकारियों से बहस भी हुई। फिर भी दिल्ली पुलिस उन्हें आगे न बढ़ने देने की जिद्द पर अड़ गई। लेकिन प्रशांत भूषण ने कहा, “यदि उन्हें आगे नहीं जाने दिया तो यह मामला सुप्रीम कोर्ट जाएगा।”

पुलिस जब गिरफ्तार कर उन्हें ले जा रही थी तभी मीडिया की तरफ देखते हुए प्रशांत भूषण ने कहा, “जामिया में खुलेआम पिस्तौल चलाया जाता है उसे आसानी से चलाने देते हैं। जो लोग जेएनयू में जाकर नकाबपोश पहनकर मारते हैं। लोगों को पुलिस पूरा सहारा देती है। और जो लोग शांति से खड़े होकर ‘जन गण मन’ गा रहे हैं, गांधी को याद कर रहे हैं उन्हें जेल में डालते हैं।”

वहीं योगेंद्र यादव को घसीटते हुए पुलिस ने अपने वैन में डाल दिया। योगेंद्र यादव ने कहा, ” जो संविधान लेकर चलते हैं उसके साथ ये हो रहा है और जो पिस्तौल वाले हैं वो मजे में हैं। लेकिन अंततः गोडसे हारेगा, गांधी जीतेगा। ये गोडसे का नहीं गांधी का देश है। हम यहां गांधीजी को श्रद्धांजलि देने आए थे, लेकिन हमें घसीटते हुए लाया गया।

You may also like