[gtranslate]
Country

कृषि बिलों को लेकर गरमाई हरियाणा की राजनीति 

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि अध्यादेशों को लेकर प्रदर्शन तेज होता जा रहा है। कांग्रेस बीजेपी को कोसने में लगी हुई है, और बीजेपी इन बिलों को किसानों के लिए हितकारी बता रही है। लेकिन पंजाब और हरियाणा के ज्यादातर किसान इन बिलों का विरोध कर रहे हैं। हाल ही में हरियाणा कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा और पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने मीडिया से बातचीत की।
इसी दौरान कुमारी शैलजा ने किसानों के मुद्दे पर जेजेपी को घेरा। उन्होंने कहा कि “आज का वक्त देखकर चौधरी देवीलाल की आत्मा भी तड़प रही होगी। लेकिन दुष्यंत भाजपा की गोद में बैठे हैं। आज प्रदेश देख रहा है। आज किसान पर लाठियां बरसाई जा रही हैं, तब भी दुष्यंत चौटाला चुप बैठ सकते हैं। भाजपा किसानों, मजदूरों को गिरवी रख रही है”।
दूसरी तरफ अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर बादल के इस्तीफे को उन्होंने सियासी ड्रामा बताया। अकाली दल पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि “पहले कुछ बोले नहीं, दिखावा तक नहीं कर पाए, लेकिन जब किसान सड़क पर उतरे, अपनी बात रखी और देशभर में विरोध हुआ। पंजाब में इतना विरोध हुआ तब इन अकालियों ने ड्रामा रचा है और अब एनडीए छोड़ने की बात कर रहे हैं। सभी एनडीए के सहयोगी दलों को किसान, मजदूर की आवाज सुननी चाहिए”।

You may also like

MERA DDDD DDD DD