[gtranslate]
Country

CM गहलोत के बेटे और स्पीकर के वायरल विडियो से राजनीतिक सनसनी, BJP ने मांगा इस्तीफा

राजस्थान की राजनीति दिनोंदिन करवट ले रही है। हालांकि रेगिस्तान का ऊंट किस करवट बैठेगा यह तो पता नहीं । लेकिन आज जिस तरह से एक वीडियो वायरल हो रहा है उससे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उनके पुत्र सौरभ गहलोत के साथ ही विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की निष्पक्षता सवालों के घेरे में आ गई है।

वीडियो के देखने से ऐसा लग रहा है कि जैसे यह वीडियो किसी अपने ही करीबी ने बनाया हो । लेकिन इस वीडियो को वायरल करने का मकसद क्या था यह समझ से परे है। फिलहाल तो इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने से मुख्यमंत्री , उनके पुत्र और खुद विधानसभा अध्यक्ष घिरते नजर आ रहे हैं । इस मुद्दे पर राजस्थान भाजपा ने भी राजस्थान के स्पीकर को जमकर घेरा है । यहां तक कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने उनका इस्तीफा मांग लिया है ।

राजस्थान की राजनीति में एक वीडियो ने आज तूफान ला दिया है। इस वीडियो के वायरल होने से विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की निष्पक्षता पर भी सवाल उठ खड़े हुए हैं। यह वीडियो 29 जुलाई का है, जब सीपी जोशी को जन्मदिन की बधाई देने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र और राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष वैभव गहलोत पहुंचे थे। विधानसभा अध्यक्ष के सरकारी बंगले पर जोशी और वैभव में हुई संक्षिप्त बातचीत का वीडियो वायरल हो गया है। इस वीडियो के वायरल होने से राजस्थान में राजनीतिक सनसनी मच गई है ।

इस वीडियो में वैभव ने माना कि राज्यसभा चुनाव के समय से ही उनके पिता अशोक गहलोत का मूड खराब चल रहा है और अभी भी राजनीतिक हालात बहुत टफ बने हुए हैं। इस पर सीपी जोशी ने कहा कि यदि 30 विधायक चले जाते तो आप कुछ नहीं कर सकते थे। आप कितना भी होहल्ला मचा लेते, पर आपकी सरकार गिर जाती। यह तो उन्होंने (अशोक गहलोत) अपनी चतुराई से रोक लिया। यह काम सिर्फ वो ही कर सकते थे।

वीडियो की बातचीत से प्रतीत होता है कि प्रदेश के मौजूदा राजनीतिक हालातों में सीपी जोशी चिंतित हैं। सोशल मीडिया के बाद यह वीडियो अब प्रादेशिक और राष्ट्रीय न्यूज चैनलों पर जमकर चल रहा है। इससे अशोक गहलोत की सरकार के सामने नई मुसीबत खड़ी होगी। याद रहे कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव को राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष बनवाने में सीपी जोशी की ही भूमिका रही थी। वैभव से पहले जोशी ही एसोसिएशन के अध्यक्ष थे।

वीडियो वायरल होने के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने सीपी जोशी से विधानसभा स्पीकर के पद से इस्तीफा मांग लिया है। पूनिया ने कहा कि एक ओर जोशी अपने अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर रहे हैं तो दूसरी ओर अशोक गहलोत की सरकार गिराने पर चिंता जता रहे हैं। उम्मीद की जाती है कि विधानसभा अध्यक्ष की भूमिका निष्पक्ष होगी, लेकिन वायरल हुए वीडियो से ऐसा नहीं लगता है। विधानसभा अध्यक्ष पद की निष्पक्षता बनी रहे, इसके लिए जोशी को तत्काल इस्तीफा देना चाहिए।

You may also like

MERA DDDD DDD DD