[gtranslate]
Country

पीएम के 17 अप्रैल से 17 मई का ट्ववीटर मूल्यांकन: कोरोना पर सबसे कम, वोटिंग और रैलियों पर सबसे ज्यादा ट्वीट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया 'गरीब कल्याण रोजगार अभियान' का शुभारंभ

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना मरीजों की संख्या दिन प्रति दिन कम होती जा रही है। लेकिन मरने वालों की संख्या अब भी चिंता का विषय है। देश ने कोरोना की दूसरी लहर का सामना कैसे किया इसकी एक झलक हमारे देश के प्रधानमंत्री के ट्वीट में देखी जा सकती है। प्रमुख हिंदी समाचार पत्रों में से एक दैनिक भास्कर ने 17 अप्रैल से 17 मई तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट का मूल्यांकन किया। पीएम ने इस अवधि में 157 ट्वीट किए।

यह भी पढ़े: ताउते ने मचाया कहर, 637 लोगों का रेस्क्यू, 80 अभी भी लापता

पीएम के ट्वीट के मूल्यांकन में पाया गया कि पीएम ने सबसे ज्यादा ट्वीट लोगों को चुनाव में अधिक वोट डालने और रैलियों के बारे में ट्वीट किए। जबकि उस वक्त देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर फैल रही थी। बंगाल में 17 अप्रैल से 2 मई के बीच चार चरणों में मतदान हुआ था। इन 15 दिनों में पीएम मोदी ने 25 ट्वीट किए। इसमें पीएम ने अपनी चुनावी रैलियां कीं और लोगों से ज्यादा से ज्यादा वोट करने की अपील की। 2 मई को जब चुनाव के नतीजे आए तो पीएम का ट्विटर कम एक्टिव था। उन्होंने पहले 15 दिनों में कुल 95 ट्वीट किए जबकि चुनाव के बाद के 15 दिनों में 62 ट्वीट किए। कोरोना से जुड़े ट्वीट भी कम किए।

देश में 17 अप्रैल को कोरोना के 2.34 लाख नए मामले सामने आए। पीएम मोदी ने उस दिन कुल 15 ट्वीट किए हैं। जिनमें सिर्फ एक ट्वीट कोरोना से जुड़ा था, जबकि 8 ट्वीट चुनाव से जुड़े थे। इन ट्वीट्स में पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल चुनाव के पांचवें चरण और कई राज्यों में उपचुनाव में रिकॉर्ड वोटिंग की अपील की। पीएम मोदी ने 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को भी ट्वीट कर वोटिंग की अपील की। इसके बाद 2 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद सभी विजेताओं को बधाई दी और जनता को धन्यवाद दिया।

17 अप्रैल को पीएम मोदी ने ट्वीट किया था कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना संकट के चलते प्रतीकात्मक रखा जाना चाहिए। उन्होंने 21 अप्रैल को रामनवमी की बधाई देते हुए लोगों से कोरोना काल में मर्यादा का पालन करने की भी अपील की। रामनवमी पर हरिद्वार में 80 हजार से अधिक कुलीनों ने गंगा में डुबकी लगाई। 17 अप्रैल से 17 मई के दौरान पीएम मोदी ने 39 शोक संदेश पोस्ट किए। इनमें से ज्यादातर लोगों की मौत कोरोना से हुई है।

1 महीने के दौरान कोरोना से निपटने की तैयारी को लेकर पीएम मोदी ने 43 ट्वीट किए। इसमें ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और आवश्यक दवाओं के बारे में बैठकों के ट्वीट शामिल हैं। पीएम मोदी ने 20 अप्रैल को देश को संबोधित भी किया था।

 

You may also like

MERA DDDD DDD DD