[gtranslate]
Country

डाक टिकटों पर छाप दिए गए छोटा राजन और मुन्ना बजरंगी जैसे बाहुबलियों के चित्र

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कानपुर में छोटा राजन- मुन्ना बजरंगी की डाक टिकट छाप दी गई। मामला कानपुर के प्रधान डाकघर का है। यहां मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के पांच-पांच रुपये के बारह-बारह टिकट छाप दिये गये। जब इस बात की खबर मीडिया में आई तो विभाग में अफरा-तफरी का माहौल हो गया है। आखिर ऐसी गलती कैसे हो गई कि बिना किसी खोज-बीन के ही इतने बड़े खतरनाक अपराधियों की तस्वीरें अपने स्टैम्प पर छाप दी गई हैं।

मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के स्टाम्प टिकट छपने पर सफाई देते हुए पोस्टमास्टर जनरल विनोद कुमार वर्मा ने कहा कि मीडिया से जुड़ा हुआ कोई आदमी आया था उसने मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के नाम से दो फाॅर्म भर दिए। पहचान पत्र जमा करवाते हुए उन दोनों के फोटो जमा करवा दिए। कर्मचारी ने उस आदमी से पूछा तो उसने कहा कि वह उन दोनों को जानता है। इस बात से संतुष्ट होकर कर्मचारी ने स्टैम्प छाप दिए और कोई जांच नहीं की

दरअसल भारतीय डाक विभाग की ओर से एक योजना चलाई जा रही है जिसका नाम है ‘माई स्टैम्प स्कीम’ जिसके अंदर कोई भी नागरिक अपनी या अपने किसी चहेते की तस्वीरें डाक टिकट पर छपवा सकता है। वर्ष 2017 में मोदी सरकार ने इस स्कीम की शुरुआत की थी। indiapost-gov.in, वेबसाइट के अनुसार इस योजना के अंदर कोई भी नागरिक 300 रुपए देकर 12 डाक टिकटें छपवा सकता है। इस तरह एक डाक टिकट की कीमत 5 रुपए है। देश का कोई भी नागरिक संस्थान, कंपनी, एनजीओ यहां तक कि कोई सामान्य नागरिक भी डाक विभाग को पैसे देकर टिकटें छपवा सकता है।

लेकिन इस काम के लिए स्वयं डाकघर आना होगा और आवश्यक दस्तावेज भी जमा करने होंगे। उसके बाद डाक विभाग के वेबकैम के माध्यम से उस आदमी का फोटो लिया जाता है। इस प्रक्रिया को पूरी करने के बाद ही डाक टिकट जारी किया जाता है।
मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के स्टाम्प टिकट छपने पर सफाई देते हुए पोस्टमास्टर जनरल विनोद कुमार वर्मा ने कहा कि मीडिया से जुड़ा हुआ कोई आदमी आया था उसने मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के नाम से दो फाॅर्म भर दिए। पहचान पत्र जमा करवाते हुए उन दोनों के फोटो जमा करवा दिए। कर्मचारी ने उस आदमी से पूछा तो उसने कहा कि वह उन दोनों को जानता है। इस बात से संतुष्ट होकर कर्मचारी ने स्टैम्प छाप दिए और कोई जांच नहीं की। पोस्ट मास्टर-जनरल ने एक क्लर्क, रजनीश बाबू को उनकी लापरवाही के लिए निलंबित कर दिया है और छह कर्मचारियों के खिलाफ भी एक अतिरिक्त जांच जारी है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD