[gtranslate]
Country

विधायकों के खरीद फरोख्त पर कमलनाथ ने कहा, फोकट में पैसा मिल रहा है ले लेना

मध्य प्रदेश में हलचल तेज, मुख्यमंत्री कमलनाथ प्रेस कांफ्रेंस कर दे सकते हैं इस्तीफा

मध्यप्रदेश में विधायकों के खरीद-फरोख्त को लेकर एक बार फिर राजनीति गरमाने लगी है। इसको लेकर यहां की राजनीति में एक बार फिर सरगर्मियां बढ़ गई हैं। कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री और राजसभा के सांसद दिग्विजय सिंह ने सोमवार को बीजेपी पर आरोप लगाया कि वो प्रदेश में सरकार बनाने के लिए उसके विधायकों को खरीद-फरोख्त करने का प्रयास कर रही है।

इस पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि मैं विधायकों से कह रहा हूं फोकट का पैसा मिल रहा है, ले लो। कमलनाथ ने दिग्विजय की ओर से भाजपा पर लगाए आरोपों पर कहा, “विधायक ही कह रहे हैं मुझे। हमें इतना पैसा दिया जा रहा है। मैं तो विधायकों को कह रहा हूं कि फोकट का पैसा मिल रहा है। ले लेना।” हालांकि, भाजपा ने इन आरोपों को खारिज किया है।

दिग्विजय सिंह ने सोमवार को बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी जब से मध्यप्रदेश में विपक्षी पार्टी बनी है, तभी से शिवराज सिंह, नरोत्तम मिश्रा और सभी वे लोग जिन्होंने पिछले पंद्रह साल तक राज्य को लूटा कांग्रेस विधायकों को खुलेआम 25 से 35 करोड़ रुपये का ऑफर दे रहे हैं।

शिवराज सिंह चौहान ने  इस पर पलटवार करते हुए कहा कि सनसनी फैलाने के लिए झूठ बोलना दिग्विजय सिंह की पुरानी आदत है। हो सकता है कि वह मुख्यमंत्री (कमलनाथ) को ब्लैकमेल करना चाहते हो और अपनी अहमियत दिखाना चाहते हो। इसलिए इस तरह के आरोप लगा रहे हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले भी कांग्रेस की ओर से भाजपा पर विधायकों के खरीद-फरोख्त के आरोप लगाता जाते रहे हैं। मध्यप्रदेश विधानसभा में सीटों की संख्या 230 है जिनमें दो विधायकों की मौत के बाद दो सीटें खाली हैं। कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं। वहीं चार निर्दलीय और बसपा के दो विधायकों ने सरकार को समर्थन दिया है। बीजेपी के पास विधानसभा में 107 विधायक हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD