[gtranslate]
Country

भारत-नेपाल बॉर्डर पर नेपाली पुलिस ने 5 भारतीयों को मारी गोली, एक की मौत

भारत-नेपाल बॉर्डर पर नेपाली पुलिस ने 5 भारतीयों को मारी गोली, एक की मौत

भारत-नेपाल बॉर्डर पर गोलीबारी की खबर है। बताया जा रहा है कि गोलीबारी में चार भारतीयों को गोली लगी है जबकि एक शख्स की मौत हो गई है। शुरूआती खबर के मुताबिक, बिहार के सीतामढ़ी के सोनबरसा भारत-नेपाल बॉर्डर पर शुक्रवार को नेपाली पुलिस ने 5 भारतीयों को गोली मार दी, जिसमें 25 साल वर्षीय विकेश कुमार की मौत हो गई। जख्मी चार अन्य लोगों को पास के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नेपाल पुलिस ने इसके अलावा एक जख्मी युवक को हिरासत में भी ले लिया है। घायलों में से दो की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। घटना सीतामढ़ी के सोनबरसा बॉर्डर इलाके के जानकी नगर गांव की है। जानकारी के मुताबिक, भारत-नेपाल सीमा पर विवाद हुआ था, जिसके बाद नेपाल पुलिस की तरफ से अंधाधुंध फायरिंग की गई। फायरिंग की इस घटना के बाद से सीमा पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। मौके पर जिला प्रशासन के कई वरीय अधिकारी रवाना हो चुके हैं।

यह घटना उस वक्त पेश आया है जब पिपरा परसाइन पंचायत के लालबंदी जानकी नगर बॉडर पर कई लोग खेत में काम कर रहे थे। तभी अचनाक नेपाल की सशस्त्र पुलिस ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। नेपाल प्रहरी ने आरोप लगाया है कि हथियार छीनने की कोशिश के दौरान गोली मारी है। फिलहाल एसएसबी पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

गौरतलब है कि भारत और नेपाल के बीच सीमा को लेकर लगाता विवाद चल रहा है। नेपाल की प्रतिनिधि सभा ने देश के नए और विवादित नक्शे को लेकर पेश किए गए संविधान संशोधन विधेयक को सर्वसम्मति से पारित कर दिया। नेपाली मीडिया के मुताबिक, भारत के साथ सीमा गतिरोध के बीच इस नए नक्शे में लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा को नेपाल ने अपने क्षेत्र में दिखाया है।

संविधान में संशोधन करने के लिए 30 मई को नेपाल के संसदीय कार्यमंत्री शिवमया तुंबांगफे ने संसद में चर्चा के लिए विधेयक पेश किया था। बीते दिनों नेपाल द्वारा देश का एक नया राजनीतिक मानचित्र जारी कर लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी को अपने क्षेत्र में दिखाए जाने पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए 28 मई को कहा था कि वह नेपाल के साथ सीमा के मुद्दे को हल करने के लिए पारस्परिक सम्मान के आधार पर विश्वास के माहौल में मुद्दे को सुलझाना चाहता है। यह इलाके भारतीय क्षेत्र का हिस्सा रहे हैं।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इससे पहले 8 मई को उत्तराखंड में लिपुलेख दर्रे को चीन में कैलाश मानसरोवर मार्ग से जोड़ने वाली एक नई सड़क का उद्घाटन करने के बाद नेपाल ने इसका विरोध किया था और क्षेत्र में सुरक्षा चौकी लगाने की धमकी दी थी। उसके बाद से ही नेपाल द्वारा नया मानचित्र जारी कर एक नए विवाद को जन्म दिया गया। दोनों देशों के बीच फिलहाल नक्शा को लेकर तनातनी चल रही है। इस नए नक्शे में नेपाल ने कुल 395 वर्गकिलोमीटर के इलाके को अपने हिस्से में दिखाया है जिसमें लिम्पियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी के अलावा गुंजी, नाभी और काटी गांव भी शामिल हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD