[gtranslate]
Country

एनडीए में शामिल हो सकते हैं पटनायक

हाल ही में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में से चार राज्यों विजय पताका फहराने वाली भाजपा का डंका देशभर में गूंज रहा है।  पिछले कुछ समय से भाजपा ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। कई राज्यों में उसने अपने सहयोगी दलों से अलग होकर अपने दम पर चुनाव लड़ प्रचंड जीत दर्ज की है। ऐसे में भाजपा को एनडीए में भी मजबूती मिली है । इस बीच अब उड़ीसा के बीजू जनता दल के सुप्रीमो और प्रदेश  के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के दिल्ली दौरे से राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज हो गई  है। कहा जा रहा है कि जल्द ही बीजू जनता दल के प्रमुख  नवीन पटनायक फिर से एनडीए में शामिल हो सकते हैं।

 

दरअसल संसद में जब उनसे पत्रकारों ने राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति चुनाव के बारे में सवाल पूछे तो  उन्होंने यह कहते हुए टाल दिया कि उसमें बहुत समय है। हालांकि राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति चुनाव में ज्यादा समय नहीं है। दो महीने में राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। लेकिन यह मामला सिर्फ राष्ट्रपति या उप राष्ट्रपति चुनाव का नहीं है, बल्कि उससे बड़ा और आगे की राजनीति की दिशा तय करने वाला है।

राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि नवीन पटनायक भाजपा सेगठजोड़ करने और एनडीए में वापस लौटने का रास्ता तलाश रहे हैं। उनको लग रहा है कि भाजपा जिस तरह से आक्रामक राजनीति कर रही है और ओड़िशा के दो नेताओं- धर्मेंद्र प्रधान और अश्विनी वैष्णव को आगे बढ़ाया जा रहा है उससे लग रहा है कि अगला चुनाव वह राज्य में सरकार बनाने के लिए लड़ेगी।

गौरतलब है कि ओड़िशा में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ होते हैं। पिछली बार भाजपा ने लोकसभा की आठ सीटें जीतीं थी । इस सबके बीच खास बात यह है कि नवीन पटनायक की उम्र 75 साल हो गई है और राज्य में चुनाव होने के समय तक उनकी आयु  77 साल हो जाएगी । उनकी सेहत भी ठीक नहीं है। ऐसे में कहा यह भी जा रहा है कि वह राजनीति से सन्यांस लेने की  सोच रहे हैं। लेकिन वह जानते है कि उनके रिटायर होने के बाद उनकी पार्टी का भविष्य खतरे में पड़ सकता है । इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि उनकी पार्टी का अगर भाजपा से तालमेल रहता है तो पार्टी सत्ता में रह सकती है। हालांकि  नवीन पटनायक खुद भी शुरू में भाजपा की मदद से ही आगे बढ़े। इसलिए वे एनडीए में लौटना चाहते हैं। अगर एनडीए में उनकी वापसी होती है तो शुरुआत लोकसभा में उपाध्यक्ष पद लेने से हो सकती है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD