[gtranslate]
Country

गाजियाबाद में मुस्लिम बुजुर्ग पिटाई मामला: ट्वीटर इंडिया के MD को नोटिस 

गाजियाबाद के मुस्लिम बुजुर्ग अब्दुल समद सैफी की पिटाई मामले में अब नया मोड़ आ गया है। इस मामले में ट्विटर पर चल रहे आपत्तिजनक ट्वीट को हटाने की अपील के बावजूद भी ट्वीट नहीं हटाए गए।
 गाजियाबाद पुलिस ने इस बाबत टीम इंडिया के एमडी को ट्वीट हटाने की शिकायत की थी। इसके बावजूद भी कोई एक्शन नहीं हुआ । तत्पश्चात गाजियाबाद पुलिस ने टीम इंडिया के एमडी को नोटिस भेज दिया है। टि्वटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर मनीष माहेश्वरी को  नोटिस भेजा है। जिसमें गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर के एमडी को 7 दिन के अंदर थाने में उपस्थित होने के आदेश दिए हैं।
 गाजियाबाद पुलिस ने लिखा है कि स्पष्टीकरण जारी करने के बावजूद भी आरोपियों ने अपने ट्वीट डिलीट नहीं किए। जिसके कारण धार्मिक तनाव बढ़ा । टि्वटर इंडिया और ट्विटर कम्युनिकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की ओर से उन ट्वीट को हटाने के लिए कोई कदम नहीं उठाए गए। उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 153, 153a, 295a, 505, 120b, और 34 के तहत मुकदमे दर्ज किए गए हैं।
 गाजियाबाद पुलिस का कहना है कि ट्विटर ने उक्त सभी आरोपियों को विवादास्पद ट्वीट हटाने के लिए इनको मैनिपुलेटिड मीडिया का टैग नहीं दिया। जिसके चलते यह ट्वीट चलते रहे और देश में धार्मिक अराजकता का माहौल उत्पन्न हो गया ।
गौरतलब है कि गत 7 जून को बुलंदशहर के समद पर लोनी के कुछ लोगों ने हमला किया और उन्हें जबरन अपने ऑटो में बिठाकर सुनसान इलाके में ले गए । जहां समद पर धार्मिक नारे लगवाए गए। इसके साथ ही उसकी दाढ़ी भी काटी गई। गाजियाबाद बॉर्डर की पुलिस उस समय हरकत में आई जब 1 सप्ताह बाद पीड़ित ने वीडियो वायरल की। जिसमें उन्होंने कहा कि उनसे ‘जय श्री राम’ के जबरन नारे लगवाए गए और उसकी दाढ़ी काटी गई। इतना ही नहीं बल्कि उसके साथ शारीरिक प्रताड़ना भी की गई।
इसके बाद पूरे देश में इस मामले पर विपक्ष ने भाजपा सरकार की जमकर घेराबंदी कर दी। मामला बढ़ता देख योगी सरकार ने इस प्रकरण की जांच के आदेश दिए तो पता चला कि यह मामला एक मौलवी से जुड़ा हुआ है। अब्दुल समद एक मौलवी है। जो ताबीज बनाने बनाने का काम करता है। उसने प्रवेश गुर्जर के घर ताबीज बनाया था । जिससे उसके घर में कलेश उत्पन्न हो गया था। इसके बाद प्रवेश और दो मुस्लिम लड़कों ने समद के साथ शारीरिक उत्पीड़न किया। प्रवेश सहित नौ लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है ।
इस मामले में राजनीतिकरण भी हो रहा है। बताया जा रहा है कि लोनी के विधायक नंदकिशोर गुर्जर इस मामले को दूसरी तरफ मोड़ दे रहे हैं। इस मामले का मुख्य आरोपी प्रवेश गुर्जर विधायक नंदकिशोर गुर्जर का खास आदमी है। यही नहीं बल्कि दूसरा आरोपी उमेद पहलवान भी सपा का नेता है और जब नंदकिशोर गुर्जर समाजवादी पार्टी के नेता हुआ करते थे तब उनके साथ मंच साझा करता था

 

You may also like

MERA DDDD DDD DD