[gtranslate]
Country

मध्य प्रदेश के आधा से ज्यादा मंत्री कोरोना पीड़ित, फिर लॉकडाउन 

मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज समेत आधे से ज्यादा कैबिनेट मंत्री और विधायक तक कोरोना की चपेट में आए हुए हैं। हर दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राज्य में दोबारा लॉकडाउन किया गया है। लेकिन कोरोना महामारी फिर भी रुकने का नाम नहीं ले रही है। अब राज्य के मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अगर हमने कोरोना को परास्त करना होगा तो खुद इसके प्रति सक्रिय होना पड़ेगा। लॉकडाउन कोरोना का स्थाई समाधान नहीं है। हमें सभी को सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों पालन करना होगा, और अन्य लोगों को भी इसके प्रति जागररूक करना होगा।

सीएम ने कहा कि “प्रदेश में कोरोना को पूर्ण रुप से समाप्त करने के लिए कोरोना अभियान 2 के रूप में जन जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। जो कि 1 अगस्त से प्रारंभ होकर 14 अगस्त तक चलेगा। इस अभियान के दौरान हमें एक दूसरे के पूरे सहयोग से दृढ़ संकल्पित होकर संक्रमण की चेन को पूरी तरह तोड़ देना है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे प्रदेश को कोरोना संक्रमण से मुक्त करने के इस अभियान में अपना पूरा-पूरा सहयोग प्रदान करें। कोरोना अभियान 2 में राज्य स्तर पर नोडल विभाग बनाया गया है। अभियान में संचालित गतिविधियों में गृह विभाग के साथ-साथ नगरीय विकास, पंचायत एंव ग्रामीण विकास, स्वास्थ्य एंव परिवार कल्याण तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग द्दारा भी कार्यवाही की जाएगी”।

राज्य के मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि “इस अवधि में सभी प्रकार की राजनीतिक रैलियों का आयोजन भी पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। जन-प्रतिनिधि गण अपने क्षेत्र में ऑनलाइन वर्चुअल रैलियों का आयोजन कर सकते हैं। जन-प्रतिनिधि अपने कार्यालय अथवा निवास स्थान पर आम जनता से मिलकर उनकी समस्याएं शिकायतें सुन सकते हैं, किन्तु इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि एक समय में 5 से अधिक लोग एकत्र न हों। मास्क एंव फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया जाना सभी के लिए अनिवार्य होगा, जो इन नियमों का पालन नहीं करेगा, उनके विरुद्ध जुर्माना तथा अन्य विधिक कार्यवाही की जाएगी। बगैर मास्क लगाए घर से बाहर निकलने पर नियमानुसार चालान तो होगा ही, लेकिन इसके साथ ही 2 मास्क भी निशुल्क दिेए जाएँगे। बतां दे मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट, राज्यसभा सांसद ज्योतिादित्य सिंधिया, विधायक कुणाल चौधरी, विधायक प्रवीण पाठक, पिछड़ा वर्ग एंव अलपसंख्यक कल्याण मंत्री रामखेलावन पटेल, विधायक दिव्यराज, विधायक राकेश गिरी, विधायक ठाकुर दास नागवंशी, विधायक एंव पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया, पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू, बीजेपी महामंत्री सुहास भगत, ये सभी नेता कोरोना की चपेट में आ चुके हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD