Country

मोदी-ट्रंप की यारी, पाक पर भारी!

भारत ने जम्मू-कश्मीर पर जो फैसला लिया उससे पाकिस्तान बौखलाया  हुआ है. पाकिस्तान दुनिया के देशों से लगातार गुहार लगा रहा है और इस मामले में दखल के लिए कह रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कश्मीर नीति से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान बेचैन हैं। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने दावा किया कि राष्ट्रपति ट्रंप ने इमरान खान से फोन पर बात की।

जम्मू-कश्मीर पर भारत पाकिस्तान के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से लंबी बातचीत  के दौरान पीएम मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना क्षेत्र में तनाव पैदा करने का आरोप लगाया. दोनों नेताओं के बीच क्षेत्रीय शांति के अलावा द्विपक्षीय मुद्दों पर भी चर्चा हुई. प्रधानमंत्री ने  कहा कि ‘कुछ नेताओं द्वारा’ भारत के खिलाफ भड़काऊ बयानबाजी क्षेत्रीय शांति के लिए लाभकारी नहीं है ।मोदी ने साफ-साफ कहा कि  सीमापार आतंकवाद को रोकना ही होगा. इस बीच पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने दावा किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने पीएम इमरान खान से बात की. शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान को उम्मीद है कि ट्रंप और अमेरिका कश्मीर मसले में अपनी भूमिका निभाएंगे. भले ही राष्ट्रपति ट्रंप के फोन से पाकिस्तान ने राहत की सांस ली हो लेकिन भारत साफ-साफ कह चुका है कि कश्मीर पर तीसरा पक्ष कबूल नहीं।

एक हफ्ते के अंदर ट्रंप और इमरान खान के बीच यह दूसरी बातचीत है.

व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने इमरान खान को कश्मीर में तनाव घटाने पर बल देने का सुझाव दिया. राष्ट्रपति ने इमरान खान को भड़काऊ बयानबाजी से भी बचने का आग्रह किया है। बातचीत में राष्ट्रपति ट्रंप और इमरान खान ने दोनों देशों को एक दूसरे का सहयोग   बढ़ाने और व्यापार सहित कई मुद्दों पर मजबूती से आगे बढ़ने पर जोर दिया।

दूसरी ओर भारत में प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से कहा गया कि प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप के बीच दक्षिण एशिया में आतंक मुक्त माहौल कायम करने और इसके लिए मिलजुल कर काम करने पर विस्तृत बातचीत हुई।  सीमा पार आतंकी गतिविधियों को कम करने के लिए भी दोनों नेताओं ने एक दूसरे से सहमति जताई है।पीएम मोदी ने ट्रंप से बातचीत में कहा कि क्षेत्र के कुछ नेताओं द्वारा दिए जा रहे भारत विरोधी उग्र और हिंसा भड़काने वाले बयान का जिक्र किया और कहा कि यह शांति के लिए अनुकूल नहीं है। जाहिर है कि यह पाकिस्तानी नेतृत्व के संदर्भ में है जो कश्मीर मसले को लेकर भारत के विरोध में जहर उगल रहे हैं।

क्षेत्रीय हालात के संदर्भ में मोदी ने ट्रंप को बताया कि क्षेत्र के कुछ नेताओं द्वारा दिए जा रहे भारत विरोधी उग्र और हिंसा भड़काऊ बयान शांति के लिए ठीक नहीं है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान लगातार ट्विटर के माध्यम से मोदी पर हमले कर रहे हैं और उनको फासीवादी नस्लवादी बता रहे हैं।

इमरान खान मोदी पर भारत को हिंदू वर्चस्व वाले देश में बदलने का आरोप लगा रहे हैं और भारत में मुस्लिमों को मताधिकार से वंचित करने व आरएसएस के गुंडों के उपद्रव मचाने की बात कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय के बयान के अनुसार, मोदी ने टेलीफोन पर बातचीत के दौरान आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण का निमार्ण करने और सीमापार आतंकवाद पर लगाम लगाने के महत्व पर प्रकाश डाला।

You may also like